bhuvneshwar kumar

न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली डब्ल्यूटीसी के फाइनल और इंग्लैंड के खिलाफ के होने वाली 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए बीसीसीआई चयनकर्ताओं ने 24 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया गया है. जिसमें 4 अतिरिक्त खिलाड़ियों को शामिल किया गया है. इस दौरे के लिए चुनी गई टीम में तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) को भी नजरअंदाज किया गया है. जो हर किसी के लिए चौंकाने वाली बात थी.

क्यों भारतीय तेज गेंदबाज को टीम इंडिया में इंग्लैंड दौरे पर नहीं मिली जगह

bhuvneshwar kumar

इंग्लैंड के खिलाफ घोषित की गई टीम में तेज गेंदबाज का नाम न देखकर काफी लोगों को हैरानी हुई थी. क्योंकि एक लंबे वक्त से फिटनेस की वजह से वो टीम में शामिल नहीं हो पाए थे. लेकिन, इसी बीच एक और बड़ी खबर सामने आई है. जिसके जरिए यह साफतौर पर स्पष्ट हो जाता है कि, उन्हें टीम में ना चुनने का फैसला चयन समित का नहीं बल्कि इस फॉर्मेट में न खेलने का बड़ा फैसला खुद खिलाड़ी का ही था.

हाल ही में ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के हवाले से आई एक रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि,

‘भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) अब टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते हैं. इस फॉर्मेट से ध्यान से हटाकर सीमित ओवरों के क्रिकेट में लगाना चाहते हैं. जितने भी लोग उनके करीब हैं, उन्हें इस बारे में पता है कि, बीते कुछ समय से उनके वर्क ड्रिल में कई तरह के चेंजेज आए हैं’.

आखिरी बार 2018 में खेला था टेस्ट क्रिकेट

WhatsApp Image 2021 05 15 at 6.27.44 AM

साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि, ‘हैवी वेट ट्रेनिंग, व्हाइट बॉल क्रिकेट का कम्फर्ट जोन और टेस्ट फॉर्मेट से काफी वक्त दूरी बनाए रहना भी इस निर्णय के पीछे एक बड़ी वजहों में शामिल रही है’. भुवनेश्वर के टेस्ट करियर तो साल 2018 के जनवरी महीने में आखिरी बार उन्होंने जोहानसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला. इसके बाद से तेज गेंदबाज को सिर्फ लिमिटेड ओवरों के मैच में मौका दिया गया.

लेकिन, टेस्ट फॉर्मेट में उनकी फिटनेस के चलते उन्हें किसी भी सीरीज में मौका नहीं दिया गया. बीते सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल के दौरान उन्हें इंजरी हो गई थी. इसके कारण ऑस्ट्रेलियाई दौरे से उन्हें बाहर कर दिया गया था. साल 2013 में पहली बार भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) ने टीम इंडिया की तरफ से टेस्ट प्रारूप में डेब्यू किया था.

श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज में मिल सकती है जगह

WhatsApp Image 2021 05 15 at 6.28.16 AM

टेस्ट में पदार्पण के बाद भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) सिर्फ 21 मुकाबलों में खेलने के लिए टीम में जगह दी गई. 21 टेस्ट में 26.09 की औसत से गेंदबाजी करते हुए उन्होंने कुल 63 विकेट झटके हैं. फिलहाल जिस तरह की खबरें सामने आ रही हैं, उससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि, भारत और श्रीलंका के खिलाफ होने वाली वनडे और टी-20 सीरीज के लिए टीम में उनका चयन किया जा सकता है.