bhuvneshwar kumar father

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) के घर पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. बीते गुरूवार को उनके पिता किरनपाल सिंह (Kiran Pal Singh death) ने दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया है. 63 साल के किरनपाल सिंह बीते 8 महीने से लीवर के कैंसर जैसी भयावह बीमारी से जूझ रहे थे. भूवी की फैमिली में उनकी मां इंद्रेश देवी और बहन रेखा हैं.

पुलिस विभाग में कार्यरत थे भूवी के पिता

bhuvneshwar kumar

भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) को जन्म साल 1990 में  5 फरवरी को  उत्तर प्रदेश के मेरठ में हुआ था. भूवी के पिता पुलिस विभाग में कार्यरत थे. लेकिन, कुछ वक्त पहले ही उन्होंने नौकरी से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) ले ली थी. पुलिस विभाग में ड्यूटी के समय उन्हें मेरठ और मुजफ्फरनगर में पोस्टिंग मिली थी.

इसके बाद वो हमेशा के लिए मेरठ के गंगानगर में ही परिवार के साथ शिफ्ट हो गए थे. हालांकि बुलंदशहर में उनका आना-जाना लगा रहता था. भूवी बचपन से ही क्रिकेटर बनने की चाहत रखते थे. लेकिन, भारतीय टीम का स्टार बनने में उनकी मदद उनके पिता ने की थी.

बेटे को क्रिकेटर बनाने में पिता ने निभाई अहम भूमिका

WhatsApp Image 2021 05 21 at 7.16.36 AM

हालांकि पुलिस विभाग में कार्यरत होने के कारण क्रिकेटर के पिता किरनपाल (Kiran Pal Singh) के पास वक्त की काफी कमी होती थी. लेकिन, बचे हुए समय को वो अपने बेटे भुवनेश्वर के साथ बिताने की कोशिश करते थे. छोटे शहर होने के बाद भी उन्होंने मेरठ में अपने बेटे भूवी को सबसे अच्छी क्रिकेट कोचिंग दिलाई.

13 साल की उम्र में बेटे को खुद दिवंगत किरनपाल सिंह पहली बार स्टेडियम लेकर गए थे, जो उनके घर से लगभग 7 से 8 किलोमीटर दूर था. इसके साथ ही वो बेटे के कोच से खेल के बारे में चर्चा भी करते थे. लेकिन, कहते हैं कि पिता के साथ ही भूवी को क्रिकेटर बनाने में उनकी बड़ी बहन रेखा का भी बड़ा हाथ रहा.

पिता के लिए साल 2020 में आईपीएल छोड़कर स्वदेश लौट आए थे तेज गेंदबाज

WhatsApp Image 2021 05 21 at 7.16.43 AM

‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो’ के हवाले से आई एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते साल भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) जब यूएई में सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ ओर से खेलने गए थे, उस वक्त ये जानकारी सामने आई थी कि, क्रिकेट पिता  कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से जूझ रहे हैं. रिपोर्ट की माने तो,

‘भूवी अपने पिता के बिगड़ते स्वास्थ्य की वजह से ही यूएई में आईपीएल के बचे हुए मुकाबले को बीच में छोड़कर वापस भारत लौट आए थे. हाल ही में उनके पिता की तबीयत बिगड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन, इसके बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था.’

इलाज कर डॉक्टरों ने दे दिया था जवाब

WhatsApp Image 2021 05 21 at 7.18.52 AM

बताया जा रहा है कि, दिवंगत किरनपाल सिंह का इलाज इंग्लैंड के डॉक्टरों के निर्देश के मुताबिक चल रहा था.  दिल्ली और नोएडा से चल रही उनकी कीमो थेरेपी भी पूरी हो गई थी और वो खुद को पहले से स्वस्थ महसूस कर रहे थे. लेकिन, बीते दो हफ्ते पहले ही एक बार फिर से अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई थी. जिसके कारण उन्हें गंगानगर के पास ही एक अस्पताल में एडमिट कराया गया था.

स्वास्थ्य में थोड़ा सुधार आने के बाद उन्हें मुजफ्फरनगर के मसूरी अस्पताल में शिफ्ट कराया गया. लेकिन, लीवर की समस्या के साथ ही पीलिया समेत और कई बीमारी होने की वजह से डॉक्टरों ने जवाब दे दिया था. डॉक्टरों की तरफ से जवाब दिए जाने के बाद भुवी और उनकी मां इंद्रेश देवी, बहन रेखा घर पर ही पिता की देखभाल कर रही थीं.

6 साल पहले दिवंगत किरनपाल सिंह को इस वजह से मिली थी धमकी

WhatsApp Image 2021 05 21 at 7.18.31 AM

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, बुलंदशहर में एक जमीन के सौदेबाजी करने के बाद भुवनेश्वर कुमार (bhuvneshwar kumar) के पिता को जान से मारने की धमकी भी मिली थी. यह पूरा वाक्या साल 2015 का है. उस वक्त भूवी श्रीलंका दौरे पर थे. धमकी मिलने के बाद क्रिकेटर के पिता ने पुलिस से मदद मांगी थी.

उस वक्त ऐसी खबर सामने आई थी कि,  जमीन खरीदने के बाद स्वर्गीय किरनपाल सिंह को फोन पर सौदे से हटने के लिए कहा गया था. जब उन्होंने ये बात मानने से इनकार कर दिया तो उन्हें इसका अंजाम भुगतने तक की धमकी दे दी गई थी. उस दौरान तेज गेंदबाज के पूरे परिवार को मेरठ के डीआईजी ने सुरक्षा उपलब्ध करवाई थी.