Team india 4

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने विदेशों में खेली जा रही घरेलू टी20 लीगों को लेकर बड़ा बयान दिया है. दरअसल उनका ये बयान ऐसे मौके पर आया है. जब अगले साल साउथ अफ्रीका में टी20 लीग खेली जानी है. इस लीग में आईपीएल फ्रेंचाइजियों ने टीमे खरीदी हैं. जिसके बाद से कयास लगाए जा रहे थे कि टी20 लीग के उद्घाटन सत्र में धोनी सीएसके फ्रेंचाइजी के स्वामित्व वाली टीम जोहान्सबर्ग सुपर किंग्स के मेंटॉर हो सकते हैं. हालांकि राजीव शुक्ला के इस बयान के बाद काफी हद तक चीजें क्लियर हो गई हैं कि भारतीय खिलाड़ी विदेशी लीगों में हिस्सा नहीं ले सकते हैं.

BCCI के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने दिया बड़ा बयान

BCCI

क्रिकेट की दुनिया में आईपीएल के बाद विदेशी लीगों ने भी रफ्तार पकड़ ली है. लगभग हर देश में आईपीएल की तर्ज पर टी20 लीग का आयाोजन कराया जा रहा है. हालांकि ये विदेशी लीग दुनिया की सबसे बड़ी लीग IPL के सामने कहीं नहीं ठहरती हैं. इसलिए भारतीय खिलाड़ी किसी विदेशी लीग में हिस्सा नहीं लेते हैं.

बता दें क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) अगले साल टी20 लीग को आयोजित करने जा रही है. जिसे लेकर चर्चाओं का बाजार गरम है. सोशल मीडिया पर ऐसा दावा किया जा रहा था कि भारतीय खिलाड़ी इस लीग में खेलते हुए नजर आ सकते हैं. जिस पर BCCI के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला (Rajiv Shukla) ने बड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा,

“हम अपने खिलाड़ियों को विदेश में किसी अन्य क्रिकेट लीग में उपलब्ध नहीं कराते हैं. इस संबंध में हमारी सीधी पॉलिसी है. हमारी इंडियन प्रीमियर लीग अपने आप में एक बहुत बड़ी लीग है और हम अपने किसी भी खिलाड़ी को किसी भी तरह से किसी भी विदेशी लीग से जुड़ने की अनुमति नहीं दे सकते.” 

दक्षिण अफ्रीका में अगले साल शुरू टी20 लीग

csa t20 league

जनवरी और फरवरी 2023 में होने वाली दक्षिण अफ्रीका की टी20 लीग का सीधा मुकाबला यूएई के इंटरनेशनल लीग टी20 से होगा जो अगले साल जनवरी में भी होगा. दोनों लीग उस समय ही संचालित होंगी. हालांकि दक्षिण अफ्रीका और यूएई क्रिकेट बोर्ड ने अगले साल शुरू होने वाली अपनी टी20 लीग की घोषणा कर दी है.

इन दोनों लीगों में चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस, राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स जैसी आईपीएल फ्रेंचाइजियों ने टीमें खरीदी हैं. इसी के साथ यह उम्मीद की जा रही थी कि भारतीय खिलाड़ी भी इन दो टूर्नामेंट में खेलते हुए नजर आ सकते हैं, लेकिन राजीव शुक्ला के बयान के यह बात स्पष्ट होती कि BCCI भारतीय खिलाड़ियों की किसी भी कीमत पर विदेशी लीग में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं देगा.