पिछले साल एकदिवसीय विश्व में बेहद ही शानदार प्रदर्शन करने वाले टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित शर्मा के नाम की सिफारिश बीसीसीआई ने ‘खेल रत्न’ पुरुस्कार के लिए की है. इस बात की जानकारी स्वयं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल (बीसीसीआई) ने बीते दिन ट्वीट कर दी.

रोहित शर्मा के साथ साथ टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन, टेस्ट टीम के मुख्य तेज गेंदबाज इशांत शर्मा और महिला क्रिकेटर दीप्ति शर्मा के नामों की सिफारिश भी बोर्ड ने अर्जुन अवार्ड के लिए की है.

सामने आया अध्यक्ष का बयान

इन अवार्ड्स के लिए भारतीय खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश करने के बाद बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अपने बयान में कहा, ”हमने इन नामों को चुनने से पहले काफी सारा डाटा देखा और कई पैमानों को लेकर चर्चा की. रोहित ने एक बल्लेबाज के तौर पर कई सारे बेंचमार्क तय किए हैं और वो सब हासिल किया है जो कई सारे खिलाड़ी नहीं कर पाए. हमें लगता है कि वह खेल रत्न पाने के हकदार हैं.”

दादा ने आगे कहा, ”इशांत टेस्ट टीम के सबसे सीनियर खिलाड़ी हैं और भारत को नंबर-1 टीम बनाने में उनका अच्छा खासा योगदान रहा है. शिखर भी लगातार अच्छा कर रहे हैं और आईसीसी टूर्नामेंट्स में उनका प्रदर्शन काफी अहम रहा है. वहीं दीप्ति बेहतरीन ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं और टीम की सफलता में उनका योगदान भी काफी उपयोगी रहा है.”

रोहित ने की रिकार्ड्स की बारिश

जब से रोहित शर्मा को पारी की शुरुआत करने का मौका मिला, तब से रोहित ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. साल 2013 के बाद से हिटमैन विश्व के सबसे बढ़िया सलामी बल्लेबाज माने जाते है. पिछले साल रोहित को टेस्ट में भी बतौर सलामी बल्लेबाज मौका दिया गया और उन्होंने वह पर भी बेहतरीन प्रदर्शन कर सभी का दिल जीत लिया.

विश्व कप 2019 में हिटमैन सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज भी थे. 9 मैचों में रोहित ने 81 की अविश्वसनीय औसत और लगभग 99 के दमदार स्ट्राइक रेट के साथ कुल 648 रन बनाये थे. पूरे टूर्नामेंट में रोहित शर्मा के बल्ले से पांच शतकीय पारियां भी देखने को मिली थी.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...