Manchester Test

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त इंग्लैंड में है। जहां, ओवल टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल शुरु होने से पहले रवि शास्त्री की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मुख्य कोच सहित गेंदबाजी, फील्डिंग कोच को क्वारेंटीन कर दिया गया। अब ये बात सामने आई है कि रवि शास्त्री के साथ विराट कोहली ने भी पुस्तक विमोचन में हिस्सा लिया था, जिसके चलते BCCI कोहली व शास्त्री से नाराज है, क्योंकि दोनों बबल से बाहर निकलकर भीड़-भाड़ भरे इवेंट में शामिल हुए।

इस मामले से बोर्ड है शर्मिंदा

BCCI

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी है कि विराट कोहली और रवि शास्त्री द्वारा इवेंट को अटैंड करने वाले मामले पर BCCI शर्मिंदा है। असल में ज्यादा चांसेस हैं कि शास्त्री को कोविड संक्रमण उसी इवेंट से मिला होगा, जिसमें वह ओवल टेस्ट के दौरान कोहली के साथ शरीक हुए थे। बीसीसीआई के अधिकारी ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया,

“इवेंट की तस्वीरें बीसीसीआई के अधिकारियों के साथ शेयर की गई हैं। बोर्ड इस मामले की जांच करेगा। इस मामले ने बोर्ड को शर्मिंदा किया है। कोच और कप्तान से पूरे मामले के बारे में ओवल टेस्ट के बाद सवाल पूछे जाएंगे। टीम के प्रशासनिक मैनेजर गिरीश डोंगरे की भूमिका भी जांच के दायरे में है।”

टी20 विश्व कप की मीटिंग में उठ सकता है मुद्दा

फिलहाल रवि शास्त्री सहित गेंदबाजी व फील्डिंग कोच भी 10 दिनों के क्वारेंटीन में हैं। जिसके चलते वह टीम के साथ मेनचेस्टर रवाना भी नहीं हो सकेंगे। अधिकारी ने आगे कहा,

“बीसीसीआई इस मामले को लेकर ईसीबी से संपर्क में है और यह कोशिश कर रही है कि बिना किसी अन्य मामले के सीरीज को पूरा किया जा सके। फिलहाल सभी यही उम्मीद कर रह हैं कि शास्त्री जल्दी ठीक हो जाएं। बुधवार को टी20 वर्ल्ड कप को लेकर सिलेक्शन मीटिंग भी है। हो सकता है कि इस मुद्दे को वहां भी उठाया जाए।”

जय शाह ने पहले ही दी थी चेतावनी

bcci

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के सचिव जय शाह ने सीरीज शुरु होने से पहले सभी सदस्यों को भीड़-भाड़ वाले कार्यक्रमों में शामिल होने से बचने के लिए कहा था। लेकिन इसके बावजूद ये मामला सामने आया है। अधिकारी ने कहा,

“यह किसी बोर्ड द्वारा आयोजित किया गया कोई ऑफिशियल प्रोग्राम नहीं था। यह घटना और भी परेशान करने वाली है क्योंकि बीसीसीआई सचिव जय शाह ने सीरीज से पहले टीम के प्रत्येक सदस्य को पत्र लिखकर उन्हें सतर्क रहने और भीड़-भाड़ वाले कार्यक्रमों में शामिल होने से बचने के लिए कहा था। टीम की कार्रवाई बोर्ड के साथ अच्छी नहीं रही है।”

“मैनचेस्टर में एक उचित बबल होगा। पांचवां टेस्ट खत्म होने के पांच दिन बाद ही यूएई में आईपीएल होने जा रहा है। खिलाड़ियों को एक बबल में संयुक्त अरब अमीरात जाना होगा, अन्यथा उन्हें दुबई पहुंचने पर क्वारेंटीन अवधि से गुजरना होगा। उम्मीद है कि टीम के बबल में प्रवेश करने के बाद कोई और घटना नहीं होगी।”