bcci

मंगलवार को ICC की मीटिंग के बाद कई बड़े फैसले लिए गए। एक ओर जहां इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने 2031 तक के क्रिकेट कार्यक्रमों का ऐलान कर दिया है। तो वहीं आगामी टी20 विश्व कप की मेजबानी के लिए बीसीसीआई द्वारा किए गए अनुरोध को भी स्वीकार कर लिया है। अब बोर्ड ने भारतीय बोर्ड को एक महीने का समय दिया है, जिसमें वह मेजबानी पर फैसला ले सकें। इसके लिए बीसीसीआई के पास 28 जून तक का समय है।

ICC ने BCCI को दिया समय

बीसीसीआई ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) से एक महीने का समय मांगा था, जिसमें वह मेजबानी पर फैसला कर सके। दरअसल, भारत में कोरोना वायरस की स्थिति में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है, ऐसे में बीसीसीआई मेगा इवेंट को देश में ही आयोजित करना चाहता है। इसलिए उन्होंने ICC से 1 महीने का वक्त मांगा था, जो आईसीसी ने उन्हें दे दिया है। आईसीसी बोर्ड के एक करीबी सूत्र ने बताया ,

‘‘हां, आईसीसी बोर्ड ने बीसीसीआई का अनुरोध मान लिया है और उनके पास भारत में टी20 विश्व कप की मेजबानी पर फैसला लेने के लिये 28 जून तक का समय है।वे अगले महीने ठोस योजना के साथ बोर्ड के समक्ष फिर आयेंगे।’’

BCCI नहीं गंवाना चाहता मेजबानी

BCCI

भारत में कोरोना वायरस की स्थिति में धीरे-धीरे सुधार जरुर हो रहा है, लेकिन अभी भी स्थिति कंट्रोल में नहीं है। मगर बीसीसीआई अक्टूबर-नवंबर में टी20 विश्व कप की मेजबानी को हाथ से नहीं जाने देना चाहता है। हालांकि उसके पास यूएई में इवेंट को कराने का विकल्प है, मगर भारतीय बोर्ड की प्राथमिकता देश में ही मेगा इवेंट को आयोजित करना है। ICC बोर्ड के एक सदस्य ने कहा,

‘‘बीसीसीआई भारत में वैश्विक टूर्नामेंट की मेजबानी करना चाहता है। वे यह मौका छोड़ना नहीं चाहते। आईसीसी बोर्ड दो और विंडो तलाश रहा है। एक फरवरी 2022 है लेकिन उसी समय महिला वनडे विश्व कप भी होना है। दूसरा विकल्प अगले आईपीएल के बाद जून में है लेकिन ऐसे शहर तलाशने होंगे जहां मानसून का असर नहीं होगा। इसके चार महीने के भीतर आस्ट्रेलिया में एक और टी20 विश्व कप होना है।’’