bcci

Team India vs New Zealand के बीच खेले जाने सीरीज के पहले मैच से पहले सोशल मीडिया पर हंगामा मचा हुआ है। कथित तौर  BCCI द्वारा खिलाड़ियों को हलाल मीट अनिवार्य कर दिया। जिसके बाद विवाद छिड़ गया। ऐसा बताया गया कि खिलाड़ियों को बीफ खाने की अनुमति नहीं दी गई है। साथ ही कहा गया है कि अगर किसी को मीट खाना है तो वे केवल हलाल मीट ही खा सकते हैं। मेन्यू से पोर्क और बीफ बाहर रखे गए हैं। अब हलाल मीट वाले मामले पर बीसीसीआई कोषाध्यण ने चुप्पी तोड़ते हुए बयान दिआ है।

खान-पान खिलाड़ियों की पर्सनल चॉइस

bcci

कानपुर टेस्ट से पहले Team India के मेन्यू को लेकर छिड़े विवाद के बीच BCCI कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने इंडिया टुडे से बात करते हुए बताया है कि खान-पान में BCCI का कोई हस्तक्षेप नहीं होता, ये तो खिलाड़ियों की पर्सनल चॉइस होती है। धूमल ने कहा,

”खिलाड़ियों से खाने को लेकर कभी चर्चा नहीं हुई है और इस तरह के डाइट प्लान के बारे में कभी नहीं सुना। मुझे नहीं पता कि यह फैसला कब लिया गया। जहां तक ​​मेरी जानकारी है, हमने कभी भी डाइट प्लान से संबंधित कोई गाइडलाइन जारी नहीं की। जहां तक ​​खान-पान की बात है तो यह खिलाड़ियों की व्यक्तिगत पसंद है, इसमें बीसीसीआई की कोई भूमिका नहीं है।”

हलाल मीट पर भी दिया जवाब

हलाल मीट को लेकर छिड़े विवाद के बीच BCCI कोषाध्यक्ष का कहना है कि ये बात किसी खिलाड़ी के फीडबैक से आई होगी। उन्होंने कहा,

“‘हलाल’ मीट वाली बात किसी खिलाड़ी के फीडबैक के आधार पर सामने निकलकर आई होगी। उदाहरण के लिए, मान लीजिए कोई खिलाड़ी कहता है कि वह बीफ नहीं खाता है और ऐसे में विदेशी टीम आती है तो खाने को मिक्स नहीं करना चाहिए।”

25 नवंबर को शुरु होगा कानपुर टेस्ट

bcci, Team India vs NZ kanpur test record
Team India vs NZ kanpur test record

लंबे वक्त बाद कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में भारतीय क्रिकेट टीम मैदान पर उतरेगी। न्यूजीलैंड-भारत के बीच ये टेस्ट मैच 25 नवंबर से शुरु होगा। हालांकि इस मैच से पहले भारतीय टीम के सामने कई सवाल खड़े हैं। रोहित शर्मा, विराट कोहली, ऋषभ पंत तो इस टेस्ट का हिस्सा पहले से ही नहीं थे और अब केएल राहुल भी चोट के चलते सीरीज से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह सूर्यकुमार यादव को स्क्वाड में मौका मिला है। देखने वाली बात होगी कि राहुल द्रविड़ व अजिंक्य रहाणे किस प्रकार विनिंग कॉम्बिनेशन तैयार करते हैं।