खिलाड़ी

क्रिकेट में टी20 फ़ॉर्मेट आने के बाद खिलाड़ियों के खेलने का अंदाज बदल गया है. अब खिलाड़ी इस फ़ॉर्मेट में खेलते हुए औसत पर कम ध्यान देते हुए ज्यादा नजर स्ट्राइक रेट पर लगाते हैं. जिससे वो तेजी से ज्यादा रन बना सके और जीत में अहम योगदान दें.

हालाँकि इस समय में भी विराट कोहली और बाबर आजम जैसे कुछ खिलाड़ी हैं. जिनका औसत टी20 फ़ॉर्मेट में बहुत ही शानदार है. जिसके कारण उनकी तारीफ भी हर जगह होती रहती है. लेकिन कुछ ऐसे बल्लेबाज भी हैं. जिनका औसत इन दोनों से भी बेहतर है.

आज हम आपको उन 5 खिलाड़ियों के बारें में बताएँगे. जिनका टी20 फ़ॉर्मेट में औसत विराट कोहली और बाबर आजम से भी बेहतर है. यानी 50 के ऊपर का औसत होने के बाद भी ये दोनों खिलाड़ी कुछ खिलाड़ियों से पीछे नजर आते हैं. हालाँकि इस लिस्ट में शामिल कुछ नाम आपको चौका भी सकते हैं.

5. हिरेन वरैया

136455

भारत के मुंबई शहर में जन्में हिरेन वरैया ने लंबे समय तक केन्या की राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व किया. बाएं हाथ का स्पिनर इस लिस्ट में नंबर-5 पर आता है. हिरेन ने 2006 और 2018 के बीच तीनों फॉर्मेट में केन्या के लिए खेलते हुए नजर आए हैं.

हिरेन वरैया ने केन्या के लिए 25 टी20 में हिस्सा लिया जहां उन्होंने 5.96 की इकोनॉमी रेट के साथ 18 विकेट लिए. न्यूजीलैंड के दिग्गज खिलाड़ी डेनियल विटोरी ही एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिनकी टी20 क्रिकेट में इकोनॉमी बेहतर है. हिरन को इस फ़ॉर्मेट में  12 मैचों की 11 पारियों में बल्लेबाजी करने का मौका मिला.

वरैया ने इस दौरान 51.00 के औसत के साथ कुल 51 रन बनाए. अब जैसा कि आप देख सकते हैं हिरेन का टी20 फ़ॉर्मेट में औसत 51 का रहा जो कि विराट कोहली और बाबर आजम से बेहतर है. हालाँकि वो बहुत ज्यादा बार नीचे खेले. जिसके कारण कई बार नॉट आउट भी लौटे है.

4. मैथ्यू हेडन

628797 matthew hayden afp

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है. भले ही हेडन को अधिक टी20 आई मुकाबले खेलने का मौका नहीं मिला लेकिन उन्होंने फिर भी विराट कोहली और बाबर आजम से बेहतर औसत के साथ रन बनाया.

मैथ्यू हेडन ने ऑस्ट्रेलिया टीम के लिए कुल 9 टी20 मुकाबले खेले जिसमें 51.33 के औसत के साथ 308 रन बनाए. इस दौरान हेडन के बल्ले से 4 अर्धशतकीय पारियां निकली. 2007 में भारत के खिलाफ मैथ्यू हेडन ने आखिरी टी20 मुकाबला खेला जिसमें उन्होंने 17 रन बनाए. इसके बाद हेडन टी20 मैचों में नजर नहीं आए.

हेडन अच्छे प्रदर्शन के बाद भी इस फ़ॉर्मेट में बहुत ज्यादा नहीं खेले. हालाँकि आईपीएल के दौरान उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बहुत अच्छा खेल दिखाया. 2009 में साउथ अफ्रीका की मेजबानी में खेले गए आईपीएल के दूसरे सीजन में सर्वाधिक रन बनाने के बाद ऑरेन्ज कैप अपने नाम की.

3. उस्माना लिंबाडा

Usman Limbada

कनाडा के लिए क्रिकेट खेलने वाले उस्माना लिंबाडा का नाम इस लिस्ट में नजर आ रहा है. असल में उस्माना ने भी गिनती के टी20 मैच ही खेले, तो परिणामस्वरूप उनका औसत काफी शानदार रहा. उस्माना लिंबाडा 2010 से कनाडा की टीम से अंदर व बाहर होने वाले खिलाड़ी रहे थे.

उस्माना लिंबाडा मध्य क्रम के बल्लेबाज के बल्लेबाज थे. लेकिन निरंतरता नहीं होने के कारण उन्हें कनाडा की टीम में जगह नहीं मिली. मध्य क्रम बल्लेबाज उस्माना लिंबाडा ने 2010 और 2014 के बीच कनाडा के लिए कुल 18 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले. जिसमें 11 एकदिवसीय और सात टी20 मुकाबले शामिल रहे थे.

लिंबाडा ने 2010 में अपनी कनाडा की टीम में टी20 फॉर्मेट में डेब्यू किया और कुल 7 मैचों में उन्हें मौका दिया गया था. जिसमें से कुल 3 मैचों में ही उनकी बल्लेबाजी आई. इस दौरान 53.00 के औसत से उन्होंने 53 रन बनाए थे. जिसके बाद से वो इस फ़ॉर्मेट में कभी नहीं खेले.

2. मार्कस ट्रेसकॉथिक

960

इंग्लैंड टीम के पूर्व क्रिकेटर मार्कस ट्रेसकॉथिक का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है. जिनका औसत टी20 क्रिकेट में विराट कोहली, बाबर आजम से भी बेहतर है. सलामी बल्लेबाज मार्कस उन खिलाड़ियों में से एक रहे जिन्होंने अपनी आक्रामकता से सभी को बहुत ज्यादा रोमांचित किया है.

मार्कस ट्रेसकॉथिक ने इंग्लैंड की टीम के लिए टी20 फ़ॉर्मेट में 3 ही मैच खेले हैं. इस दौरान बाएं हाथ के बल्लेबाज ने 55.33 के औसत व 126.71 की स्ट्राइक रेट के साथ 166 रन बनाए. अब विराट और बाबर आजम के टी20  क्रिकेट का औसत 50.00 में है लेकिन ट्रेसकॉथिक ने 55.33 के साथ रन बनाए.

ट्रेसकॉथिक ने हालाँकि घरेलू क्रिकेट में टी20 फ़ॉर्मेट खेलते हुए 89 टी20 मैचों में 150.60 के शानदार स्ट्राइक रेट से 2365 रन बनाए. जो उनके इस फ़ॉर्मेट में स्तर को बताता है. लेकिन उसके बाद भी इंग्लैंड की टीम ने उन्हें इस फ़ॉर्मेट में खेलने का मौका नहीं दिया. जो दुर्भाग्यवश हुआ था.

1. ट्रेविस डॉलिन

ms dhoni 1530863137

वेस्टइंडीज के टी20 खिलाड़ी ट्रेविस डॉलिन का नाम इस लिस्ट में नजर आ रहा है. अब उन्हें क्रिकेट जगत में महेंद्र सिंह धोनी के विकेट के रूप में याद किया जाता है. जो उन्होंने 2009 चैंपियंस ट्रॉफी में हासिल किया था. उस समय धोनी ने 14 रनों पर खेल रहे ट्रेविस को पवेलियन भेज दिया था.

ट्रेविस डॉलिन ने वेस्टइंडीज की टीम के लिए 2009 और 2010 के बीच छह टेस्ट, 11 वनडे और दो टी20 मुकाबले खेले. टी20 फ़ॉर्मेट में उन्होंने 2009 के समय में बांग्लादेश के खिलाफ पर्दापण किया था. जब उन्होंने 37 गेंदों पर मात्र 37 रन ही बनाये थे.

डॉलिन ने टी20 फ़ॉर्मेट में मात्र 2 ही मैच खेले थे. जिसमें उन्होंने 68 के औसत से 68 रन बनाए हैं. औसत के मामले में वो सबसे आगे नजर आते हैं. हालाँकि स्ट्राइक रेट के मामले में वो बहुत ज्यादा पीछे नजर आते हैं. जिसके कारण ही वो लंबे समय तक इस फ़ॉर्मेट में नहीं खेल पायें.