befunky 2022 8 1 13 54 34 1
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

एशिया कप 2022 (Asia Cup 2022) का समापन हो चुका है. श्रीलंका ने टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले को 23 रन से जीत कर खिताबी जीत हासिल की है. टीम की इस जीत को लेकर पूरा क्रिकेट जगत उत्साहित है क्योंकि इस साल एशिया कप में भारतीय टीम को मजबूत और खिताबी जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. शुरूआती दो मैच जीत कर टीम में दिखाया भी की वो सिर्फ जीतने के लिए आये है लेकिन अपने प्रयोगों की वजह से कप्तान रोहित शर्मा अपनी की रणनीति में फंस कर एशिया कप से बाहर हो गये.

 तेज़ गेंदबाजी पर जरूरत से ज्यादा भरोसा

Deepak Hooda Team India Lucky Charm

एशिया कप (Asia Cup 2022) में टीम तीन तेज़ गेंदबाजों के साथ मैदान में उतरी थी. टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने साफ़ तौर पर माना था की वो टेस्ट कर रहे है की तीन तेज़ गेंदबाज़ और दो स्पिन गेंदबाजों के साथ मैच में कैसे प्रदर्शन होने वाला है. हार के बाद भी रोहित ने स्पिन की जगह एक बार फिर से तेज़ गेंदबाज़ी पर ही भरोसा जताया जिसकी वजह से कई मौकों पर उनकी साफ़ तौर पर स्पिन गेंदबाज़ को मौका न दिए जाने के लिए आलोचना भी हुई जिसका दीपक हूड्डा सबसे बड़ा उदहारण है.

श्रीलंका की जीत में उनके स्पिनरों ने सबसे बड़ा रोल निभाया है. वानिंदु हस्रँगा और महीश तीक्ष्णा ने सभी मैचों में अहम मौकों पर विकेट चटका कर टीम की मैच में वापसी करवाई है. फाइनल में हसरंगा का प्रदर्शन टीम की जीत का अहम कारण भी साबित हुआ था. ऐसे में रोहित शर्मा को अपनी स्पिन जोड़ी पर भरोसा जताकर उन्हें और मौका देना चाहिए था.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse