Arshdeep Singh

“ODI डेब्यू करके बहुत खुश हूं”, शिखर धवन की कप्तानी में Arshdeep Singh को मिला पदार्पण, तो किया अपने प्लान का खुलासा∼

शुक्रवार यानी 25 नवंबर ऑकलैंड में खेले गए पहले मुकाबले टीम इंडिया के तेजतर्रार गेंदबाज अर्शदीप सिंह (Arshdeep Singh) ने वनडे क्रिकेट की दुनिया में अपना पहला कदम रखा। शिखर धवन की अगुवाई में अर्श ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अपने वनडे करियर का पहला मुकाबला खेला। 50 ओवर के क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद युवा तेज गेंदबाज काफी खुश नजर आए। वहीं दूसरे वनडे मैच के शुरू होने से पहले उन्होंने अपनी खुशी को जाहिर करते हुए बयान दिया। साथ ही उन्होंने अपने प्रदर्शन को लेकर बड़ी बात भी कही…….

वनडे क्रिकेट में डेब्यू करके खुश हैं Arshdeep Singh

Arshdeep Singh

हैमिल्टन के सेडन पार्क में दूसरे मुकाबले के रद्द होने से पहले अर्शदीप सिंह ने कमेंटेटर्स के साथ बातचीत करते हुए बताया था कि वह वनडे क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद बेहद ही खुश हैं। उन्होंने कहा,

“वनडे में डेब्यू करने के बाद मैं बेहद खुश हूं। हर युवा खिलाड़ी का सपना होता है कि जब वह क्रिकेट खेलना शुरू करे तो एक दिन देश का प्रतिनिधित्व करे। डेब्यू करके मुझे बहुत अच्छा लगा। अब मेरा लक्ष्य है कि मैं लगातार अच्छा प्रदर्शन करूं और टीम को जीत दिला सकूं।”

Arshdeep Singh ने अपने प्रदर्शन को लेकर किया बड़ा खुलासा

Arshdeep Singh

अर्शदीप सिंह (Arshdeep Singh) ने इस सिलसिले में आगे बात करते हुए अपनी खेल की योजना पर खुलासा करते हुए कहा,

“शुरुआत में अगर गेंद स्विंग करती है तो मैं बल्लेबाज़ों को एलबीडब्ल्यू या बोल्ड आउट करने की कोशिश करता हूं। लेकिन अगर गेंद स्विंग नहीं करती है, तो योजना किफायती गेंदबाजी करने और रनों को रोकने की होती है। T20I और ODI में चार ओवर गेंदबाजी करने के बीच ज्यादा अंतर नहीं है, मैं अपनी ताकत का समर्थन करना जारी रखूंगा और टीम के लिए रन रोकने की कोशिश करूंगा।

जो साइड लंबी होती है, हम उस दिशा में गेंदबाजी करने की कोशिश करते हैं। जरूरी नहीं कि हमेशा मैदान के आयामों को देखा जाए, अगर कोई विशेष बल्लेबाज सीधे बल्लेबाज़ी नहीं करता है तो हम उसे सीधे गेंदबाजी करने की कोशिश करते हैं।”

इसी के साथ बता दें कि अर्श ने अब टी20 अंतरराष्ट्रीय के 21 मुकाबलों में 33 विकेट हासिल किए हैं। जबकि वनडे क्रिकेट में अब तक वह अपना खाता भी नहीं खोल सके हैं।