Arshdeep Singh-MOM-IND vs SA-1ST T20I 2022

Arshdeep Singh: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 3 मैचों की T20I सीरीज़ का पहला मुकाबला आज यानि 28 सितंबर को तिरुवंतपुरम के ग्रीनफ़ील्ड स्टेडियम में खेला गया. जिसमें भारतीय टीम ने 8 विकेट से मुकाबला अपने नाम कर लिया. दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत के सामने 107 रनों का साधारण सा लक्ष्य रखा था. जिसको भारत ने 8 विकेट शेष रहते हुए ही हासिल कर लिया.

वहीं इस मुकाबले में टीम की गेंदबाज़ी ने सबसे ज़्यादा प्रभावित किया. खासकर युवा तेज़ तर्रार गेंदबाज़ अर्शदीप सिंह (Arshdeep Singh) की तीखी गेंदों ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज़ों को सबसे ज़्यादा परेशान किया. जिसके चलते उन्हें “प्लेयर ऑफ़ द मैच” के अवॉर्ड से भी नवाज़ा गया है. वहीं अवॉर्ड मिलने के बाद सिंह ने बड़ा बयान भी दिया है.

Arshdeep Singh ने मैच के बाद दिया बड़ा बयान

Arshdeep Singh

भारतीय टीम के युवा तेज़ गेंदबाज़ अर्शदीप सिंह (Arshdeep Singh) ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने 4 ओवर के स्पेल में 8 की इकॉनमी रेट से गेंदबाज़ी करते हुए 32 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए हैं. इस ज़बरदस्त प्रदर्शन के चलते अर्शदीप को “प्लेयर ऑफ़ द मैच” के ख़िताब से भी नवाज़ा गया. जिसके बाद उन्होंने बताया कि वह यह अवॉर्ड जीतने के लिए कितना ज़्यादा उत्साहित थे. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि उनकी मैच के दौरान क्या रणनीति थी. अर्शदीप सिंह ने कहा,

“मैंने सोचा था कि अगर मुझे मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिलेगा तो मैं क्या कहूंगा और थोड़ा उत्साहित हो गया. पहले ओवर में डीसी भाई (दीपक चाहर) ने टोन सेट किया और हमें पता था कि सतह से काफी मदद मिलेगी. योजना इसे सरल रखने और सही क्षेत्रों में गेंदबाजी करने की थी.”

मिलर के विकेट का उठाया सबसे ज़्यादा आनंद

Arshdeep Singh

अर्शदीप सिंह ने बातचीत करते हुए आगे अपने बयान में इस बात का भी ज़िक्र किया कि उन्हें सबसे ज़्यादा मिलर का विकेट लेने में मज़ा आया. साथ ही उन्होंने एनसीए में बिताए दिनों के बारे में भी बात की. अर्शदीप (Arshdeep Singh) ने कहा,

“मैंने मिलर के विकेट का सबसे ज़्यादा आनंद लिया क्योंकि मुझे लगा कि वह एक आउटस्विंगर की उम्मीद कर रहे हैं लेकिन मैंने इसके बजाय उन्हें एक इनस्विंगर गेंद डाल दी. मैंने उसके दिमाग खेला। केशव महाराज विकेट लेने के बारे में सोचा था लेकिन उन्होंने अच्छा खेला और योजना कुछ और हो सकती थी। मैं तरोताजा हूं, एनसीए में अच्छा प्रशिक्षण सत्र रहा और उम्मीद है कि मैं आगे भी इस तरह का प्रदर्शन करूंगा.”