Arman Jaffer

रणजी ट्रॉफी में मुंबई के लिए खेल रहे अरमान जाफर (Arman Jaffer) ने ओडिशा के खिलाफ बहुत ही ज़बरदस्त बल्लेबाज़ी की है और अपने चाचा की टीम की जमकर क्लास लगाई है. जी हां! आप बिल्कुल सही सुन रहे हैं. दरअसल, भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज़ वसीम जाफर के भतीजे अरमान जाफर ने रणजी ट्रॉफी में मुंबई का प्रतिनिधित्व करते हुए ओडिशा के खिलाफ शानदार शतक लगाया है. ग़ौरतलब है कि वसीम इस समय ओडिशा टीम के कोच है और उनके भतीजे (Arman Jaffer) ने उन्हीं की टीम के गेंदबाज़ों की जमकर पिटाई की है.

अपनी चाचा की टीम पर बरसे Arman Jaffer

Arman Jaffer

आपको बता दें कि फर्स्ट क्लास करियर में 10 हज़ार से ज़्यादा रन बनाने वाले वसीम जाफर इस समय रणजी ट्रॉफी में ओडिशा टीम के साथ बतौर कोच के रूप में जुड़े हुए हैं. जबकि उनके भतीजे अरमान जाफर (Arman Jaffer) भी इस बार मुंबई के लिए खेल रहे हैं.

हालांकि जब चाचा और भतीजे की टीम रणजी ट्रॉफी में एक दूसरे के आमने-सामने दिखी तो, अरमान जाफर ने अपने चाचा की टीम के गेंदबाज़ों की जमकर धुलाई की. अरमान (Arman Jaffer) ने ओडिशा के खिलाफ इस मुकाबले में 125 रन की ज़बरदस्त शतकीय पारी खेली है और वसीम जाफर के टीम के छक्के छुड़ाए हैं. इस पारी के दौरान अरमान के बल्ले से 15 चौके और 2 शानदार छक्के भी निकले. युवा अरमान ने अपनी टीम के लिए इस मैच में बहुत ही महत्वपूर्ण रन बनाए हैं और साथ ही अपने चाचा वसीम जाफर की टीम को इस मुकाबले में पिछाड़ा है.

सरफ़राज़ खान के बल्ले से निकला एक और शतक

Sarfaraz Khan

रणजी ट्रॉफी 2022 में अगर किसी बल्लेबाज़ ने सबसे ज़्यादा प्रभावित किया है तो वह सरफ़राज़ खान हैं, जो लगातार अच्छी बल्लेबाज़ी करके दिखा रहे हैं. अभी हाल ही में मुंबई के लिए खेलते हुए दोहरा शतक लगाने के बाद सरफ़राज़ खान ने, अब ओडिशा के खिलाफ भी शानदार 165 रनों की पारी खेली है. एक के बाद एक उनके बल्ले से लगातार शतक बरस रहे हैं.

इसके अलावा अगर मुंबई और ओडिशा के मैच की बात करें तो अरमान जाफर और सरफ़राज़ खान की शतकीय पारी की मदद से मुंबई 5 विकेट के नुकसान पर 431 रन बोर्ड पर लगाने में सक्षम रही. जिसके जवाब में ओडिशा महज़ 284 रन ही बना पाई. ऐसे में मुंबई को 147 रनों की अच्छी बढ़त दूसरी पारी में मिल गई है. मुंबई इस वक्त खेल में ओडिशा से काफी आगे हैं. बहरहाल, भरतीय टीम की टेस्ट साइड से ड्रॉप हुए अजिंक्य रहाणे भी इस मैच में मुंबई की टीम का हिस्सा हैं, लेकिन वह इस मैच की पहली पारी में, पहली गेंद पर ही शून्य पर ऑउट हो गए.