Anrich Nortje-IPL 2021

सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली कैपिटल्स (SRH vs DC) के बीच खेला गया 33वां मैच रोमांच से भरा रहा. इस मैच में एनरिच नोर्त्जे (Anrich Nortje) ने सनराइजर्स हैदराबाद पर जमकर कहर बरपाया. दरअसल केन विलियमसन (Kane williamson) ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जो टीम पर भारी पड़ गया. पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद 9 विकेट के नुकसान पर सिर्फ 134 रन का ही स्कोर खड़ा कर सकी. जिसका पीछा करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स टीम ने महज 17.5 ओवर में ही इस लक्ष्य को हासिल कर 8 विकेट से मुकाबले को जीत लिया.

दिल्ली के इस गेंदबाज ने तोड़ा हैदराबाद के जीत का सपना

Anrich Nortje

हैदराबाद के खिलाफ मिली शानदार जीत के बाद एनरिच नोर्त्जे (Anrich Nortje) को मैन ऑफ द (MOM) मैच घोषित किया गया है. इस मैच में पहली सफलता टीम को उन्होंने 0 के स्कोर पर दिलाई. डेविड वॉर्नर (David Warner) उनका शिकार बने और बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए. उन्होंने इस मैच में 3.00 की बेहद कम इकोनॉमी रेट से गेंदबाजी करते सिर्फ 12 रन दिए और सबसे सफल गेंदबाज भी साबित हुए. उन्होंने टीम के लिए सिर्फ रन ही नहीं बचाए बल्कि विकेट भी लिए.

 

भले ही इस तेज गेंदबाज के हाथ 2 ही विकेट लगे. लेकिन, ये दोनों ही विकेट बेहद अहम थे. पहले उन्होंने हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर को पवेलियन का रास्ता दिखाया. इसके बाद केदार जाधव को भी अपनी गेंद पर LBW कर पवेलियन की तरफ रूखसत किया. यहां से विरोधी टीम को उन्होंने संघर्ष करने पर मजबूर कर दिया और मैन ऑफ द मैन (Man Of The Match) का खिताब भी अपने नाम कर लिया. इस सम्मान के बाद उन्होंने बड़ा बयान दिया है.

मैन ऑफ द मैच बनने के बाद Anrich Nortje ने दिया ये बयान

photo 2021 09 23 00 16 15

दरअसल पहले चरण में वो दिल्ली कैपिटल्स के लिए उपलब्ध नहीं हो सके थे. लेकिन, यूएई लेग में वापसी करते ही वो विरोधियों पर भारी पड़ गए. एनरिच नोर्त्जे (Anrich Nortje) अपने प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए कहा कि,

“आईपीएल का पहला चरण मिस करना दुर्भाग्यपूर्ण था. मेरे लिए टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत करना काफी बेहतरीन रहा. पिच पर थोड़ी घास थी, जिससे हमें थोड़ी मदद भी मिली. मुझे ख़ुशी है कि मैंने वापसी की और टीम के लिए योगदान दिया. अंत में चीजों को सरल रखना अच्छा था.

मैं वास्तव में खुश था कि मैं (वॉर्नर का) वह शुरुआती विकेट लेने में सफल रहा. मैं वास्तव में इस बात पर ध्यान नहीं देता कि मैं किसे आउट कर रहा हूं. लेकिन, मुझे खुशी है कि मैंने टीम की जीत में योगदान दिया.”