भारतीय टीम के पूर्व कोच और कप्तान अनिल कुंबले को किंग्स इलेवन पंजाब ने अपना नया डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट नियुक्त किया है। इससे पहले वह आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के साथ मेंटर से साथ रह चुके हैं। भारतीय टीम का कोच पद छोड़ने के बाद से वह पहली बार किसी टीम से जुड़ रहे हैं।

खिलाड़ियों को मौका देने की जरूरत

अनिल कुंबले का कहना है कि कोच बनने के बाद एक खिलाड़ी के अनुभव से काफी मदद मिलता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि टीम में मौजूद खिलाड़ियों को पूरा मौका देने की जरूरत है। पंजाब ने पिछले सीजन अपनी प्लेइंग इलेवन में सबसे ज्यादा बदलाव किया थे। टीम की नई टाइटल स्पॉन्सर लॉन्च के दौरान उन्होंने कहा

“आप एक कोच के रूप में खिलाड़ी के रूप में पिछले अनुभवों से सीखते हैं, लेकिन आईपीएल एक रोलर कोस्टर की सवारी है। आपको धैर्य रखने और फिर आपके पास मौजूद खिलाड़ियों को मौका देने की जरूरत है। कुछ परिणामों के कारण आप अन्य टीमों को देखना शुरू कर देते हैं और यह आपके निर्णय को प्रभावित करना शुरू कर देता है और यही वह चीज है जो आप चाहते हैं।”

अश्विन पर क्या है फैसला?

किंग्स इलेवन पंजाब के रविचंद्रन अश्विन को ट्रेड करने की खबरें काफी समय से आ रही थी। टीम के सह मालिक नैश वाडिया ने कुछ समय पहले साफ कर दिया कि अश्विन को रिलीज नहीं किया जायेंगे। वह कप्तान रहेंगे या नहीं, इस सवाल पर अनिल कुंबले ने कहा

“हमने अभी फैसला नहीं किया है। कुछ निर्णय लेने की आवश्यकता है लेकिन हमें इस समय निर्णय लेने की आवश्यकता नहीं है। आईपीएल अभी पांच महीने दूर है। एक नीलामी आ रही है, हम उसी के आसपास टीम बनाना शुरू करेंगे। अश्विन के दो साल शानदार थे लेकिन निश्चित रूप से हमें सही नतीजे नहीं मिले लेकिन हमने कोई फैसला नहीं किया है कि कप्तान कौन होगा।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *