Andre Russell

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी आंद्रे रसेल (Andre Russell) अपने इंस्टाग्राम पोस्ट को लेकर सुर्खियों में बने हुए है. उनका ये पोस्ट वेस्टइंडीज के हेडकोच फिल सिमंस के बयान के जवाब में था. क्योंकि वो दो महीने बाद ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप में अपनी टीम का हिस्सा बनाना चाहते हैं.

रसल ने क्रिकेट वेस्टइंडीज से अपनी शर्तें मनवाने की गुहार लगाई थी. जिसके बाद  उनका ये इंस्टाग्राम पोस्ट सामने आया. उन्होंने अपनी इस पोस्ट में चार गुस्से वाले इमोजी के साथ कड़े शब्दों का इस्तेमाल किया. हालांकि उन्होंने ये पोस्ट सोशल मीडिया से हटा लिया है. उसके बावजूद भी ये मामला शांत होने का नाम ही नहीं ले रहा है.

रसेल का ये इंस्टाग्राम पोस्ट बना सुर्खियों का विषय

Andre Russell

वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर आंद्रे रसेल (Andre Russell) ने पोस्ट भले ही सोशल मीडिया से डिलीट कर दिया हो, लेकिन उनके इस पोस्ट से उनके दर्द को बखूबी समझा जा सकता है. इस पोस्ट के पीछे उनकी मंशा क्या रही होगी? दरअसल मामला यह है कि वो अपने देश की नेशनल टीम के लिए खेलना चाहते है. उनकी कुछ शर्ते है, जिन्हें बोर्ड मानने के लिए तैयार नहीं.

Andre Russell post

जिस पर उन्होंने कुछ ना कहने के बजाय सोशल मीडिया पर अपने गुस्से का इजहार किया, आंद्रे रसेल ने अपने इस पोस्ट में लिखा, ‘मुझे पता है कि ऐसा कुछ कहा जाने वाला है, लेकिन मैं चुप रहने वाला हूँ .  वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डैरेन सैमी द्वारा इंग्लैंड में चल रही द हंड्रेड के दौरान रसेल से विवाद के बारे में फिर से पूछा गया तो उन्होंने ज्यादा जानकारी नहीं दी.

Andre Russell ने वापसी के लिये रखी ये शर्तें

Andre Russell

आंद्रे रसेल (Andre Russell) को घातक गेंदबाजी और विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है. उन्हें आईपीएल में ऐसा करते हुए कई बार देखा गया है. उन्होंने अपनी दमदार बल्लेबाजी और गेंदबाजी से वेस्टइंडीज को कई मैच जिताए हैं.

ऐसे में वो अपनी टीम को आगामी टी20 विश्व कप 2022 में खेलकर जिताना चाहते हैं, लेकिन वेस्टइंडीज बोर्ड उनकी शर्तें मानने के लिए राजी नहीं है. रसेल अपने पूर्व टीम साथी डैरेन सैमी के सवालों का जवाब देते हुए रसेल ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा,

“मैं हमेशा खेलना चाहता हूं और देश को वापस कुछ देना चाहता हूँ लेकिन यदि क्रिकेट वेस्टइंडीज कुछ चीजों पर सहमत नहीं होता है तो फिर इसका क्या फायदा है, उन्हें मेरी शर्तों का सम्मान करना होगा. हमारा परिवार है और हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम उन्हें सर्वश्रेष्ठ अवसर दे सकें.”

“मेरे पास एक ही करियर है. ऐसा नहीं है कि मैं फिर से कुछ शुरू कर सकूं. मैं 34 साल का हूं और देश के लिए एक और विश्व कप या दो और जीतना चाहता हूं. मैं  हर रोज आगे बढ़ रहा हूं.”