England's James Anderson, left, reacts after India's captain Virat Kohli, right, played a shot on his delivery on the first day of their second cricket test match in Visakhapatnam, India, Thursday, Nov. 17, 2016. (AP Photo/Aijaz Rahi)

“हम बिस्तर पर यह सोचते हुए जाएंगे कि कल विराट को हम आउट कर जाए।” फिल्मी अंदाज में मारा गया यह डायलॉग इंग्लैंड के बेहतरीन तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच बीते 1 अगस्त से चल रहा टेस्ट मुकाबला अपने चरम सीमा पर हैं।

Pic credit: Getty images

भारत जीत से 84 रन दूर हैं तो वहीं इंग्लैंड को अपना 1000वां टेस्ट मुकाबला जीतने के लिए 5 विकेट की जरूरत हैं।

रोमांचक अंत की तरफ भारत-इंग्लैंड पहला टेस्ट मुकाबला

Pic credit: Getty images

टेस्ट मुकाबले की शुरुआत ही काफी रोमांचक हुई थी। 287 रनों पर आल आउट हूई इंग्लैंड ने भारत को 274 रनों पर ही सिमटा दिया। दूसरी पारी में भारत ने इंग्लैंड को मात्र 180 रनों के स्कोर पर आल आउट कर दिया। अब 193 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 85 रन पर 5 विकेट खो चुकी हैं।

एंडरसन ने कहा पहली पारी जैसा खेल दिखा गए विराट तो बढ़ जाएंगी मुश्किलें

Pic credit: Getty images(Wisden)

जब पहली पारी में टीम इंडिया मुश्किल में थी तो कप्तान विराट कोहली ने शानदार 149 रनों की कप्तानी पारी खेल भारत को मैच में वापस लाया था। एंडरसन का मानना हैं कि अगर विराट फिर से उस तरह की पारी खेल गए तो भारत को हराना मुश्किल हो जाएगा।

उन्होंने यह भी कहा कि विराट को मैदान पर जीवन दान देना सबसे बड़ी गलतियों में शामिल होती हैं। पहले इनिंग में 21 और 51 रनों के स्कोर पर मलान ने विराट का कैच छोड़ा था। जिसके बाद विराट ने भारतीय टीम की बल्लेबाजी का काया पलट करके रख दिया।

एंडरसन ने यह भी कहा कि इस साल ही नहीं पिछले दो सालों से हमारी टीम मैदान पर कैच छोड़ती आ रही हैं। हम इस पर जल्द काम करना होगा। क्रिकविज़ के आकड़ो के मुताबिक 2016 से इंग्लैंड टीम ने कुल 81 कैच छोड़े हैं, जिनमें 44 स्लिप में छोड़े गए हैं।

एंडरसन ने अंत में कहा कि ” यह मुकाबला टेस्ट के बेहतरीन मुकाबलों में से एक हैं। पहले दो सेशन में हमने डोमिनेट किया। फिर भारत ने वापसी की। अब हमें मैदान पर जा बस अच्छी गेंदबाजी करनी हैं और मैच जीतना हैं। अगर आज रात हम अच्छे से आराम कर जाते हैं और रिलैक्स हो मैदान पर जाते हैं तो यह खेल बस 25 से 30 ओवरों का हैं। या तो भारत के पक्ष में या हमारे।”