Ajinkya Rahane

भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) पिछले कुछ समय से अपने करियर के बहुत ही खराब दौर से गुज़र रहे हैं. टेस्ट क्रिकेट में रहाणे कुछ समय पहले तक भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर में प्रमुख बल्लेबाज़ थे, साथ ही वह टीम के उपकप्तान भी थे. लेकिन इनके निराशाजनक प्रदर्शन ने इनसे इनकी कप्तानी छीन ली और अब ऐसी आशंका जताई जा रही है कि इनको टीम से भी ड्रॉप कर दिया जाएगा. हालांकि अब इस खिलाड़ी (Ajinkya Rahane) ने अपनी खराब फॉर्म को लेकर बहुत बड़ी बात कही है.

Ajinkya Rahane ने अपने प्रदर्शन पर दिया बयान

Ajinkya Rahane

साल 2021 में रहाणे (Ajinkya Rahane) ने 13 टेस्ट मुकाबलों में 20.83 की खराब औसत से सिर्फ 479 रन ही बनाए हैं. अजिंक्य रहाणे ने हाल ही में खेली गई दक्षिण अफ्रीका के साथ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज़ में भी अपने बल्ले से काफी निराश किया. उन्होंने सीरीज़ में खेले गए अपने 2 टेस्ट मैचों में केवल 68 रन बनाए. ऐसे में अब ये आशंका जताई जा रही है कि श्रीलंका के खिलाफ मार्च में खेले जाने वाली 2 मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज़ से रहाणे को ड्रॉप कर दिया जाएगा. वहीं अब अजिंक्य ने टेस्ट क्रिकेट में अपने निराशाजनक प्रदर्शन को लेकर बहुत बड़ा बयान दिया है. उन्होंने बैकस्टेज विद बोरिया शो में बात करते हुए कहा कि,

‘जब आप केवल एक प्रारूप खेलते हैं, विशेष रूप से पिछले 2-3 वर्षों में जहां कोई रणजी क्रिकेट नहीं है और कोई अन्य घरेलू खेल नहीं है. तो मुझे लगता है कि इन चीजों को ध्यान में रखा जाना चाहिए क्योंकि आप घर बैठे रन नहीं बना सकते.’

इसी के साथ फॉर्म से जूझ रहे अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने आगे कहा कि,

‘आप कितना भी अभ्यास करें या कितने भी सत्र हों, उससे आत्मविश्वास नहीं मिलेगा. आत्मविश्वास गेम टाइम‌ और मैचों में रन बनाने के साथ आता है.’

ग़ौरतलब है कि कोरोना वायरस की वजह से रणजी ट्रॉफी का 2020-21 का सीज़न रद्द कर दिया गया था, इतना ही नहीं बल्कि इस बार भी कोरोना के मामलों में एक दम से वृद्धि होने के कारण रणजी ट्रॉफी को आगे बड़ा दिया गया था. ऐसे में अब 17 फरवरी से इस साल रणजी ट्रॉफी का आगाज़ होने जा रहा है.

अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भी वनडे क्रिकेट से किया गया ड्रॉप

Ajinkya Rahane

भारतीय टीम के बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) जो अब सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में ही खेलते हुए दिखाई देते हैं, वह एक समय एकदिवसीय क्रिकेट में भी भारतीय टीम का हिस्सा थे. उन्हें 2015 के वनडे वर्ल्ड कप में भी टीम में चुना गया था. हालांकि एक दम से नए खिलाड़ियों के आने के बाद उनको ड्रॉप कर दिया गया. अजिंक्य रहाणे ने इस संदर्भ में बात करते हुए कहा कि,

‘इससे पहले मैं टीम इंडिया के लिए लगातार एकदिवसीय क्रिकेट खेल रहा था और मैं वास्तव में अच्छा कर रहा था. अचानक मैं ड्रॉप हो गया. मैं अपने अतीत में नहीं जाना चाहता, लेकिन वास्तविकता यह है कि मैं 2014, 15, 16 और 17 में वनडे और टेस्ट क्रिकेट दोनों में अच्छा जा रहा था. इसके बाद मुझे मुश्किल से गेम टाइम मिला, टेस्ट मैचों के बीच बहुत बड़ा गैप था.’

बहरहाल, अगर रहाणे के वनडे करियर की बात करें तो, इन्होंने वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए अब तक 90 मुकाबले खेले हैं, जिसमें इन्होंने 35.3 की अच्छी औसत से 2962 रन बनाए हैं और साथ ही 24 अर्धशतक और 3 शतक भी अपने वनडे करियर में जड़े हैं. इसमें कोई दोहराय नहीं कि वनडे में रहाणे का अच्छा प्रदर्शन रहा है.