Ajinkya rahane on kanpur test-2021
Ajinkya rahane on kanpur test-2021

अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में खेला गया कानपुर टेस्ट बेहद रोमांचक रहा. लेकिन, अंत में अच्छी वापसी के बाद भी टीम इंडिया जीत हासिल नहीं कर सकी. भारत-न्यूजीलैंड (IND vs NZ) के बीच हुए इस मुकाबले में टीम इंडिया के गेंदबाजों वे आखिर तक जीत की कोशिश की लेकिन, वो सफल नहीं हो सके.

भारत जीत से सिर्फ एक विकेट दूर था, लेकिन खराब लाइट और रचिन रवींद्र का शानदार डिफेंस इस टेस्ट को ड्रॉ कराने में कामयाब रहा. इस मुकाबले के ड्रॉ होने पर कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने क्या कुछ कहा है वो भी आपको बता देते हैं.

भारत-न्यूजीलैंड के बीच खेला गया कानपुर टेस्ट हुआ ड्रॉ

Team India

दरअसल भारत ने न्यूजीलैंड को जीत के लिए 284 रनों का लक्ष्य दिया था. जिसके जवाब में उतरी कीवी टीम ने 165 रन पर 9 विकेट गंवा दिए थे. लेकिन आखिर में रचिन रवींद्र के बीच 52 गेंदों की साझेदारी हुई और दोनों अंत तक क्रीज पर टिके रहे और भारत के पक्ष में रिजल्ट नहीं जाने दिया. इस ड्रॉ का एक बड़ा कारण 5वें दिन टीम इंडिया की खराब शुरूआत रही. पहले और दूसरे सेशन में गेंदबाज उस तरह से हावी नहीं हो सके जिसकी जरूरत थी.

आखिरी सेशल में भारतीय गेंदबाजों 5 विकेट झटके लेकिन, जीत अंतिम विकेट के लिए संघर्ष करते नजर आए. वहीं कीवी बल्लेबाजों ने शानदार डिफेंस का नमूना पेश किया और एक नया उदाहरण भी दिया. भारत इस मैच को अपने पक्ष में करते-करते चूक गया. इस ड्रॉ मैच के बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कीवी बल्लेबाजों के खेल की भी तारीफ की.

न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों के तारीफ में रहाणे ने कही दिल छू लेने वाली बात

Ajinkya rahane on kanpur

मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए टीम इंडिया अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कहा,

“ज़रुरी नहीं, मैंने अपना श्रेष्ठ प्रयास किया. क्रिकेट का  ये बहुत ही अच्छा खेल है जिसे उन्होंने वास्तव में अच्छी तरह से खेला. हमने पहले सेशल के बाद वास्तव में अच्छी तरह से वापसी की थी. हम उस साझेदारी को आगे बढ़ाना चाहते थे. हम अंत में 5-6 ओवर फेंकना चाह रहे थे. लेकिन, हमें उस साझेदारी को आगे बढ़ाने की जरूरत थी. मुझे नहीं लगता कि हम कुछ अलग कर सकते थे. अंपायरों के साथ रोशनी के बारे में बातचीत हो रही थी.

एक क्षेत्ररक्षण टीम के रूप में, आप ज्यादा ओवर गेंदबाजी करना चाहते हैं एक बल्लेबाजी इकाई के रूप में आप उस स्थिति में बल्लेबाजी नहीं करना चाहते हैं. बातचीत लाइटिंग के बारे में थी. लेकिन, अंपायरों ने कॉल किया और मुझे लगा कि वो सही फैसला है.”

श्रेयस अय्यर की कप्तान ने की तारीफ

Ajinkya rahane on Iyer

इस सिलसिले में आगे बातचीत करते हुए अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कहा,

“मुझे लगा कि इस विकेट पर स्पिनरों को लंबे स्पेल डालने होंगे. यह गेंदबाजों को घुमाने के बारे में था और उन्होंने वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की. मैं श्रेयस के लिए बहुत खुश हूं. उन्हें अपने टेस्ट डेब्यू के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा. उन्होंने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की वह जिस तरह से काम करता है. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी उनका रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है.