बीसीसीआई

भारतीय टीम विश्व कप 2019 में जीतने के इरादे से गयी थी. लेकिन सेमीफाइनल में उसे न्यूजीलैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था. जिसके साथ ही तीसरी बार विश्व कप जीतने का सपना टूट गया. अब उस हार को एक साल पूरा हो गया. जिसके बाद भारतीय टीम का कैसा प्रदर्शन रहा है. आज हम आपको बताने वाले हैं.

अच्छा रहा है भारतीय टीम का रिकॉर्ड

 

उस विश्व कप के सेमीफाइनल मैच में मिली हार के बाद से भारतीय टीम ने कुछ बदलाव करने का प्रयास किया है. महेंद्र सिंह धोनी इस बीच कोई मैच नहीं खेले. केदार जाधव को अब बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. सीमित ओवर फ़ॉर्मेट में युवा गेंदबाजों को पहले से ज्यादा मौके मिलने लगे हैं.

जिसमें दीपक चाहर और नवदीप सैनी का नाम है. केएल राहुल अब विकेटकीपर बल्लेबाज की भूमिका में मध्यक्रम के बल्लेबाज बन गये हैं. जिसके अलावा कुछ और बदलाव भी नजर आ रहे हैं. टेस्ट टीम में अब रोहित शर्मा सलामी बल्लेबाजी करते हुए नजर आने लगे हैं.

एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में बहुत अच्छा नहीं रहा रिकॉर्ड

पिछले एक साल में भारतीय टीम ने मात्र 12 एकदिवसीय मैच ही खेला है. जिसमें से मात्र 6 मैच में ही उन्हें जीत मिली है. यदि भारतीय टीम के क्षमता को देखें तो ये अच्छा प्रदर्शन बिलकुल भी नहीं कहा जा सकता है. इस बीच 5 मैच में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है. न्यूजीलैंड की टीम ने क्लीन स्वीप करके भारत को हराया था.

जो बेहद शर्मनाक रहा था. इस बीच एक मैच बारिश के कारण धुल गया था. जो दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज का पहला मैच भी रहा था. हालाँकि उम्मीद है की अब इस फ़ॉर्मेट में टीम और बेहतर प्रदर्शन करती हुई नजर आएगी. मौजूदा टीम बहुत मजबूत नजर आती है. जिसमें कई मैच विनर खिलाड़ी मौजूद हैं.

टी20 फ़ॉर्मेट में बेहतर नजर आई है विराट कोहली की टीम

 

सबसे छोटे फ़ॉर्मेट की बात करें तो भारतीय टीम ने यहाँ पर बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है. जहाँ पर एक भी सीरीज में उन्हें हार का सामना करना नहीं पड़ा है. इस बीच खेले गये 19 मैच में भारत ने 15 मैच में जीत दर्ज किया था. जबकि मात्र 3 मैच में ही उन्हें हार का सामना करना पड़ा. जिसमें से 2 मैच टाई रहे थे.

इन दोनों में ही भारत ने सुपर ओवर में जाकर जीत दर्ज किया था. जिसे जीत के आकड़े में ही जोड़ दिया गया था. इस बीच एक मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ बारिश के कारण धुल भी गया था. अपने पिछले सीरीज में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को 5-0 से भी हराया था. जो एक बड़ी सीरीज जीत भी रही थी.

टेस्ट में भी आकड़े रहे हैं बहुत शानदार

बतौर कप्तान विराट कोहली सबसे ज्यादा मजबूत टेस्ट फ़ॉर्मेट में ही नजर आते हैं. जहाँ पर वो टीम के लिए अहम भूमिका निभाते हुए नजर आते हैं. इस फ़ॉर्मेट में भारतीय टीम ने इस बीच 9 मैच खेले हैं. जिसमें से 7 मैच में जीत दर्ज किया. जिसमें दक्षिण अफ्रीका की टीम को 3, वेस्टइंडीज को 2 और बांग्लादेश को 2 मैच हराया है. हालाँकि उसके साथ ही उन्हें 2 टेस्ट मैच में हार का सामना करना पड़ा. जो उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछली सीरीज के दौरान देखने को मिला था.