भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में 4 रन से हार गई है. ऑस्ट्रेलिया की टीम को कम आकना टीम को भारी पड़ा है. टी-20 सीरीज शुरू होने से पहले सभी दिग्गज भारतीय टीम को तीनों सीरीज का विजेता पहले ही घोषित कर चुकी थी. लेकिन पहले टी-20  में हम चिर-परिचित अंदाज में हारे. शुरुआत के तीन बल्लेबाज में दो बल्लेबाज अगर नहीं चला तो हमे मैच हारना ही हारना है.

हार के बाद टीम में बदलाव की जरूरत है 

पहले टी-20 में हार के बाद अब भारतीय टीम के पास लगातार दो टी-20 जितना ही होगा. भारतीय टीम इस से बहुत ज्यादा दवाब में आ गई है. अगर इस मैच में टीम जीत जाती तो आप अगले मैच में इसी टीम के साथ उतरते तब कोई परेशानी नहीं होती. लेकिन हार के बाद बदलाव की जरूरत है. क्योंकि अगर आप अपनी बेस्ट टीम के साथ मैदान में नहीं उतरे तो आपको एक और हार का सामना करना होगा.

के एल राहुल को मौका कब तक? 

के एल राहुल भारतीय टीम के टी -20 फ़ॉर्मेट के सबसे बेहतर बल्लेबाज माने जाते हैं. लेकिन लगातार उनके प्रदर्शन में गिरावट आ रही है. इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट में शतक के बाद उनके बल्ले से कोई बड़ी पारी नहीं निकल पाई है.

वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछली सीरीज में भी इनका प्रदर्शन औसत दर्जे का था. जब टीम को इनकी जरूरत थी ये अपना विकेट देकर चले आएं.

लगातार अपने प्रदर्शन से के एल राहुल निराश कर रहे हैं 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में भी कुछ ऐसा ही हुआ. विराट कोहली अपनी जगह इनको बल्लेबाजी करने भेजते हैं. और एक बार फिर इन्होने अपने प्रदर्शन से निराश किया.

इस खिलाड़ी में प्रतिभा बहुत है. लेकिन वो उभर के नहीं आ रही है. इनके विकल्प के तौर पर श्रेयश अय्यर टीम में मौजूद हैं. अगले मैच में इस खिलाड़ी का बाहर होना लगभग तय माना जा रहा है.

कुणाल पांड्या ये आईपीएल नहीं है

पांड्या आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर टीम में इनका चयन किया गया. वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के पहले टी-20 में इन्होने अपना डेब्यू किया पहले मैच में इनका प्रदर्शन अच्छा था. लेकिन इसके बाद इनका प्रदर्शन लगातार गिरता गया. और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तो इनकी पहले जमकर धुनाई हुई.

कुणाल पांड्या ने अपने खाते के चार ओवर में 55 रन खर्च डाले

कुणाल पांड्या ने अपने खाते के चार ओवर में 55 रन खर्च डाले. कुणाल ने 13.75 की औसत से ये रन खर्चे. इस तरह से वो टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत की ओर से तीसरे सबसे महंगे गेंदबाज बन गए.

जब बल्लेबाजी की बात आई तो जब टीम को जीत दिलाने की बात आई तो अपना विकेट देकर चले आएं. अभी इस खिलाड़ी को और घरेलु क्रिकेट खेलना होगा. जिससे इनके अनुभव में इजाफा होगा. और चयनकर्ता को भी ये मान लेना चाहिए आईपीएल टीम चयन का कोई पैमाना नहीं है.

खलील अहमद की धुनाई उनको टीम से बाहर कर सकती है

वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खलील अहमद पहले टी-20 में जमकर पिटाई हुई. उनको क्रिस लीन ने तो 3 छक्के जड़ दिए. सीरीज को देखते हुए इस खिलाड़ी को कहीं अगले मैच में मौका नहीं मिले. क्योंकि अगर भारत एक और मैच हारा तो उसके हाथ से सीरीज निकल जाएगी.

 

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें. साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपकों जल्दी पहुंचा सकें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here