CSK

आईपीएल 2020 चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बहुत खराब रहा। जिसके बाद आईपीएल के आगामी सीजन के लिए चेन्नई सुपर किंग्स ने ऑक्शन में खिलाड़ियों को खरीदकर अपनी टीम को भारत में खेले जाने वाले आईपीएल 2021 के लिए तैयार कर लिया है। चेन्नई की टीम पहला मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स के साथ 10 अप्रैल को खेलने उतरेगी। तो आइए टूर्नामेंट के शुरु होने से पहले आपको चेन्नई सुपर किंग्स टीम की फुल एनालिसिस करके बताते हैं, कि अब टीम की क्या कमजोरी है, क्या मजबूती है, क्या हो सकती है आदर्श प्लेइंग इलेवन और साथ ही देखिए टीम कब, किसके साथ खेलेगी मैच।

चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत

Capture 36

आईपीएल 2020 में चेन्नई की टीम बेहद कमजोर और बेबस नजर आ रही थी। लेकिन अब ऑक्शन में मानो कप्तान एमएस धोनी की कप्तानी वाली फ्रेंचाइजी ने काफी हद तक कमजोरियां दूर कर ली हैं। वैसे तो चेन्नई की टीम की सबसे बड़ी ताकत हैं, उनके कप्तान धोनी। जिनकी कप्तानी के बल पर टीम अब तक 3 खिताब जीत चुकी है।

किंग्स ने ऑक्शन में इंग्लैंड के अनुभवी ऑलराउंडर मोईन अली को खरीदा। अली के टीम में होने से ना केवल टीम की स्पिन गेंदबाजी इकाई को मजबूती मिलेगी, बल्कि खिलाड़ी निचले क्रम पर आकर बड़ी-बड़ी हिट लगाने की काबिलियत रखता है। भारत के दूसरे टेस्ट में चेन्नई के ही मैदान पर मोईन अली ने मानो 45 रनों की तूफानी पारी ( छक्कों की हैट्रिक सहित 5 छक्के) खेलकर इस बात को साबित कर दिया।

इसके अलावा चेन्नई ने घरेलू स्टार कृष्णप्पा गौथम को भी खरीदकर टीम के साथ जोड़ा है। ये ऑलराउंडर खिलाड़ी भी टीम की गेंदबाजी व बल्लेबाजी इकाई को मजबूती देगा। इसलिए अब यदि आप टीम की मजबूती की बात करें, तो सुरेश रैना के लौट आने से एक बार फिर चेन्नई की बल्लेबाजी इकाई मजबूत दिख रही है। इसके अलावा आने वाले सीजन में चेन्नई का स्पिन डिपार्टमेंट और भी खतरनाक होने वाला है।

चेन्नई सुपर किंग्स की कमजोरी

आईपीएल ऑक्शन में करोड़ों खर्च करने के बाद भी चेन्नई की टीम में कुछ कमजोरियां नजर आ रही हैं। पिछले सीजन की ही तरह इस बार भी टीम में अधिक उम्रदराज खिलाड़ी मौजूद हैं और जो युवा खिलाड़ी हैं उनके पास ज्यादा अनुभव नहीं है।

यदि आप सीएसके की बैटिंग लाइनअप पर गौर करें, तो सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धोनी, अंबाती रायडू के पास अनुभव तो है लेकिन अब वह लंबे अंतराल के बाद चेन्नई के लिए खेलने मैदान पर उतरेंगे। ऐसे में एक गैप के बाद मैदान पर उतरने वाले खिलाड़ियों को फॉर्म हासिल करने में वक्त लग सकता है। रैना ने भले ही घरेलू टूर्नामेंट खेला, लेकिन वहां वह कुछ खास रन नहीं बना पाए थे।

इतना ही नहीं फ्रेंचाइजी ने ऑक्शन में कोई भी ऐसा बल्लेबाज नहीं खरीदा, जो उनकी टीम की बैटिंग यूनिट को मजबूत बना सके। फ्रेंचाइजी ने रॉबिन उथप्पा को ट्रेड किया, जिनका फॉर्म पिछले सीजन में बेहद खराब था। इसलिए ये कहना गलत नहीं होगा कि टीम की बल्लेबाजी इकाई इस बार भी टीम की कमजोरी लग रही है।

जीत सकती है फ्रेंचाइजी खिताब

चेन्नई सुपर किंग्स

चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे सफल फ्रेंचाइजी है। टीम 3 बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी है। पिछली बार पहला सीजन था, जब ये टीम प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई नहीं कर सकी, जिसका सबसे बड़ा कारण उनकी बल्लेबाजी इकाई की रीढ़ की हड्डी सुरेश रैना को माना जा रहा था।

मगर अब रैना आईपीएल 2021 में टीम का हिस्सा हैं। तो वहीं, सीएसके के पास एक क्वालिटी गेंदबाजी इकाई है, जो उनके लिए अच्छी साबित हो सकती है। इस बात में कोई शक नहीं है कि इस बार चेन्नई खिताब जीतने की प्रबल दावेदारी पेश करती नजर आने वाली है, क्योंकि टीम पिछली बार से अधिक मजबूत नजर आ रही है।

कोचिंग स्टाफ

हेड कोच – स्टीफेन फ्लेमिंग

बल्लेबाजी – माइकल हसी

गेंदबाजी कोच – लक्ष्मीपति बाला जी

बॉलिंग सलाहकार – इरिक सिमंस

फिजिकल ट्रेनर – ग्रेग किंग

टीम मैनेजर- रसेल राधाकृष्णनन

ऑक्शन के बाद कुछ ऐसी है चेन्नई की टीम

चेन्नई सुपर किंग्स

रिटेन खिलाड़ी: ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसिस, एमएस धोनी, केएम आसिफ, इमरान ताहिर, कर्ण शर्मा, मिचेल सैंटनर, आर साई किशोर, लुंगी एनगिडी, रवींद्र जडेजा, नारायण जगदीशन, ऋतुराज गायकवाड़, जोश हेजलवुड, अंबाती रायडू, दीपक चाहर, फाफ डु प्लेसिस, शार्दूल ठाकुर, सैम करन।

ट्रेड खिलाड़ी: रॉबिन उथप्पा

ऑक्शन में खरीदे हुए खिलाड़ी: मोईन अली (7 करोड़ रुपये), कृष्णप्पा गौतम (9.25 करोड़ रुपये), चेतेश्वर पुजारा (50 लाख रुपये), हरिशंकर रेड्डी (20 लाख रुपये), भगत वर्मा (20 लाख रुपये), हर्ष निशांत (20 लाख रुपये)।

आदर्श प्लेइंग इलेवन टीम

चेन्नई सुपर किंग्स

ऋतुराज गायकवाड़, फाफ डु प्लेसिस, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, एमएस धोनी, मोईन अली, शार्दूल ठाकुर, सैम करन, दीपक चाहर, रवींद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो।

यहां देखें पूरा शेड्यूल

चेन्नई सुपर किंग्स 2222222222222222