dc Cover if4m60h1v2cedcuhphkhuilt40 20190925141113.Medi
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट के दुनिया में आज टी20 फ़ॉर्मेट का बड़ा दौर हैं लेकिन फिर भी कुछ खिलाड़ियों में टेस्ट क्रिकेट खेलने की चाह जरुर नजर आती है. मौजूदा खिलाड़ी भी टेस्ट क्रिकेट को सबसे बड़ा और बेहतर फ़ॉर्मेट कहते हुए नजर आते हैं. जिसमें कई बड़े दिग्गज खिलाड़ी का नाम भी शामिल है.

कुछ खिलाड़ियों ने एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में पहले अपनी जगह बना और फिर टीम के नियमित सदस्य भी बन गये लेकिन उसके बाद भी उन्हें खेलने का मौका नहीं मिल पाया. हालाँकि एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में बहुत लंबे समय तक खेलने के बाद उन खिलाड़ियों को टेस्ट फ़ॉर्मेट में खेलने का मौका मिला.

आज हम आपको उन 5 खिलाड़ी के बारें में बताएँगे. जिन्होंने 90 एकदिवसीय मैच अपनी टीम के लिए खेल लिए थे. जिसके बाद उन्हें टेस्ट फ़ॉर्मेट में पर्दापण करने का मौका मिला था. ये खिलाड़ी सीमित ओवर फ़ॉर्मेट में उस समय तक बड़े खिलाड़ी के रूप में अपनी छवि बना चुके थे.

5. आरोन फिंच

08AaronFinch

ऑस्ट्रेलिया टीम के मौजूदा समय के कप्तान आरोन फिंच को 93 एकदिवसीय मैच के बाद खेलने का मौका मिला था. उस समय तक आरोन फिंच ने एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में 39.19 के औसत से 3361 रन भी बना दिए थे. जिसमें 11 शतक भी शामिल रहे थे. उस समय तक वो 42 टी20 मैच भी खेल चुके थे.

आरोन फिंच ने अब तक अपने टेस्ट करियर में मात्र 5 मैच खेला था. जिसमे 27.8 के औसत से 278 रन बनाये थे. जिसमें उन्होंने 2 अर्धशतक भी जड़े थे. हालाँकि अब आरोन फिंच एकदिवसीय फ़ॉर्मेट में 126 मैच खेल चुके हैं. जबकि टी20 फ़ॉर्मेट में 61 मैच खेले हैं.

फिंच फ़िलहाल टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं हैं. वो ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छे टेस्ट बल्लेबाज नहीं बन गये. जिसके कारण जैसे ही डेविड वार्नर की टीम में वापसी हुई उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. अब उनके वापसी की उम्मीद भी नहीं की जा रही है. ऑस्ट्रेलिया की टीम फ़िलहाल अच्छा कर रही है.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse