Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

अधिकांशतया विश्व क्रिकेट में आकड़ों का मूल्यांकन खिलाड़ियों के द्वारा बनाए गए रन अथवा लिए गए विकेट से लगाया जाता है. सामान्य दर्शक से लेकर क्रिकेट विश्लेषकों की रूचि इस बात में रहती है कि मैच में किस बल्लेबाज ने शतक लगाया. तो कौन से गेंदबाज की झोली में सबसे अधिक विकेट गए.

आश्चर्य यह है कि क्रिकेट में बल्लेबाजों द्वारा खेले गए गेंदों की चर्चा तब होती है. जब कोई बल्लेबाज टी20 में या वनडे में कम गेंदों में अधिक रन बना कर आतिशी पारी खेलता है अथवा टेस्ट मैच में अधिक गेंद खेल कर मैच को बचाता है.  लेकिन जरा सोचिए स्पिन की घुमावदार तथा तेज गति से आती हुई स्विंग गेंदों को खेलने के लिए बल्लबाजों को कितनी एकाग्रता की आवश्यकता होती होगी.

आज के समय में बड़े शॉट लगाने की कला तो आपको कई बल्लेबाजों में मिल जाएगी. लेकिन धैर्य धरकर लगातार गेंद खेलने तथा पिच में समय बिताने की कला बहुत ही कम बल्लेबाजों को आती है. इसी कारण आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे तथ्य से रूबरू कराने जा रहे है. जिससे आप हैरान रह जाओगे. तो आइये आज जानते हैं उन 5  बल्लेबाजों के नाम जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 40000 से अधिक गेंदें खेली हैं.

5. रिकी पोंटिंग

5 interesting cricket facts that you dont know, gayle creates history

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के इतिहास में यदि सबसे सफल कप्तानों की बात की जाये तो पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज खिलाड़ी रिकी पोंटिंग का नाम जेहन में सबसे पहले आता है. आपको यह जानकार हैरानी होगी कि गौरवशाली कप्तानों की परम्परा में एक श्रेष्ठतम कप्तान और बल्लेबाज रहे रिकी पोंटिंग ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 40000 से अधिक गेंदों को सामना किया है.

17 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में पोंटिंग ने 560 मैच में 71 शतकों की मदद से 27483 रन बनाए हैं. इन 27483 रनों के लिए रिकी पोंटिंग ने कुल 40130 गेंदें खेली थी. 71 शतकों के साथ पोंटिंग भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के बाद सबसे ज्यादा शतकों के मामले में दूसरे स्थान पर मौजूद हैं.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

Ashutosh Tripathi

मैं एक पत्रकार हूँ. पत्रकार ना तो आस्तिक होता है और ना तो नास्तिक होता है बल्कि...