2017 12image 19 26 576543792rohit ll
Prev1 of 6
Use your ← → (arrow) keys to browse

किसी भी खेल से जुड़ा कोई भी एथलीट अपनी फिटनेस को लेकर काफी जागरुक रहते हैं. बात करें आजकल के क्रिकेटर्स की तो उनकी फिटनेस तो बेहद जरूरी है. जी हां कप्तान विराट कोहली खुद एक फिटनेस फ्रीक हैं तो वह अपनी सेना को भी फिट एंड फाइन ही देखना चाहते हैं.

आप गौर करेंगे तो जरूर जान पाएंगे कि इस वक्त भारतीय क्रिकेट टीम टैलेंटेड खिलाड़ियों के साथ-साथ फिट खिलाड़ियों से भी भरी पड़ी है. आजकल फिटनेस का स्तर इतना बढ़ गया है कि कोई भी प्रबंधन क्रिकेटरों को पीने या धूम्रपान करने की अनुमति नहीं देगा.

93271604 mediaitem93271603

स्थिति को और अधिक कठिन और चुनौतीपूर्ण बनाने के लिए, बीसीसीआई ने यो-यो टेस्ट को भी टीम में शामिल करने का पैमाने के रूप में शामिल कर लिया है. एक खिलाड़ी उस स्थिति में ही टीम का हिस्सा बन सकता है यदि वह YO-YO टेस्ट में लगाए गए कठिनाइयों और भौतिक आवश्यकताओं को पार कर लेता है.

हर एक कैलोरी की गणना पहले की जाती है. दूसरी ओर, एल्कोहल का सेवन सहनशक्ति और स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक है.

विराट कोहली के नेतृत्व वाले पक्ष को देखते हुए, जिसने फिटनेस के लिए नए पैमाने डिसाइड किए हैं, यह कहा जा सकता है कि भारतीय क्रिकेट टीम में गैर-शराबी क्रिकेट खिलाड़ी और यहां तक ​​कि धूम्रपान न करने वाले भी हैं. लेकिन आज हम आपको उन क्रिकेटर्स के बारे में बताएंगे जो सिगरेट और शराब का करते हैं भरपूर सेवन…

Prev1 of 6
Use your ← → (arrow) keys to browse

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...