Kapil Dev
Kapil Dev
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और ऑलराउंडर कपिल देव (Kapil Dev) का भारतीय क्रिकेट टीम को एक नया आकार देने में अहम भूमिका रही है। उन्होंने (Kapil Dev) टीम इंडिया के लिए कई बड़े-बड़े कारनामे किए हैं। पूर्व कप्तान ने क्रिकेट जगत में टीम को एक अलग पहचान दिलवाई। इस बात में कोई शक नहीं है कि टीम इंडिया आज जिस भी मुकाम पर है उसमें अहम योगदान कपिल (Kapil Dev) का है।

लॉर्ड्स के मैदान पर टीम इंडिया के लिए पहले बार विश्वकप जीतने वाले कपिल देव (Kapil Dev) ही थे। उन्होंने 25 जून 1983 को टीम को एक ऐसा खिताब दिलवाया, जिसकी उम्मीद उस समय किसी ने भी नहीं की होगी। बतौर खिलाड़ी भी कपिल (Kapil Dev) अव्वल के रहे। भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी के लिए हरियाणा हरिकेन (Kapil Dev) से कंपेयर करना खिलाड़ी के लिए बहुत बड़ी बात हो जाती है।

जहां हर खिलाड़ी उनके (Kapil Dev) जैसे बनना चाहते हैं, वहीं वो उनसे कंपेयर हो जाए इससे बड़ी सौभाग्य की बात और क्या हो सकती है। लेकिन कई मौकों पर कपिल (Kapil Dev) की तुलना ऐसे ऑलराउंडर खिलाड़ियों से की गई है, जिनका करियर बुरी तरह से फ्लॉप हुआ है। तो आइए एक नजर डालते हैं उन खिलाड़ियों पर…..

Kapil Dev के साथ हुई इन 5 फ्लॉप ऑलराउंडर्स की तुलना

विजय शंकर

9kdca99g vijay shankar

तमिलनाडु टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी विजय शंकर (Vijay Shankar) का भारतीय टीम के फ्लॉप ऑलराउंडर्स की लिस्ट में शुमार है। विजय ने टीम इंडिया के लिए डेब्यू साल 2018 में श्रीलंका के खिलाफ विराट कोहली की कप्तानी में उन्हें टीम के लिए पहला मुकाबला खेलने का मौका मिला।

यह अपने टी20 डेब्यू मैच में छाप छोड़ने में बुरी तरह असफल हुए। उन्होंने 2 ओवर में गेंदबाजी करते हुए एक भी विकेट नहीं हासिल कर पाए। इसके बाद उन्हें 6 ही मैचों में टीम के लिए गेंदबाजी करने का मौका मिला, जहां उन्होंने महज 5 विकेट ही हासिल की।

अगर टी20 में उनकी बल्लेबाजी की बात करें तो उन्होंने 4 मैच में बल्लेबाजी कर 101 रन बनाए। वहीं, वनडे की 9 पारियों में गेंदबाजी कर उन्होंने 4 विकेट लिए, जबकि बल्ले से 8 पारियों में 223 रन बनाए। ऐसे प्रदर्शन के बाद वह टीम सिलेक्टर्स को इंप्रेस करने में नाकाम रहे। नतिजन उन्हें अब टीम से बाहर रहना पड़ रहा रहा है।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse