Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

दोस्ती एक ऐसा रिश्ता हैं जिसे हम अपने लिए खुद चुनते हैं. कुछ खास रिश्तों को छोड़ दें तो अधिकतर रिश्ते हमें जन्म से ही मिल जाते हैं. लेकिन दोस्ती के साथ ऐसा नहीं है. इसलिए ही दोस्ती का रिश्ता दिन पर दिन बहुत खास होता जाता है.

क्रिकेट खेलते समय अक्सर खिलाड़ी एक दूसरे के साथ बहुत ज्यादा समय बिताते हैं. जिसके कारण उनके बीच दोस्ती का रिश्ता होना आम बात होती है. लेकिन कुछ जोड़ियाँ ऐसी होती है. जिनके बीच की दोस्ती साफ तौर पर मैदान के बाहर भी नजर आती है. जिसके उनपर चर्चा भी होती है.

आज हम आपको उन 5 क्रिकेटरों के बीच दोस्ती के रिश्ते के बारें में बताएँगे. जिनको साथ देखकर ही जैसे दोस्ती की परिभाषा मिल जाती है. एक दोस्ती कैसी होनी चाहिए उसकी मिसाल इन जोड़ियो को देखकर दी जाती है. इस लिस्ट में ज्यादातर भारतीय खिलाड़ियों का नाम ही नजर आ रहा है.

1. महेंद्र सिंह धोनी-सुरेश रैना

पूर्व भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और मध्यक्रम के बल्लेबाज सुरेश रैना के बीच की दोस्ती किसी से भी छुपी हुई नहीं है. भारतीय टीम के लिए लंबे समय तक इन दोनों खिलाड़ियों ने साथ में बल्लेबाजी की, जिसके बाद आईपीएल में भी साथ नजर आयें.

महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना के बीच दोस्ती आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स में साथ खेलकर और गहरी हो गयी. जिस अंदाज में ये दोनों खिलाड़ी एक दूसरे का सम्मान करते हुए नजर आते हैं. वो बहुत ही काबिलेतारीफ रहा है. जिसकी मिसाल भी दी जाती है.

दोनों ने एकदिवसीय मे एक साथ बल्लेबाजी करते हुए 73 पारियों में 57 की औसत के साथ 3585 रन जोड़े. इस दौरान उन्होंने 9 बार शतकीय और 18 बार अर्धशतकीय साझेदारी भी निभाई. वहीं टी20I की 21 पारियों में इस जोड़ी ने 27 की औसत के साथ 549 रन जोड़े और इनके बीच दो बार 50+ रन की साझेदारी भी देखने को मिली.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse