2 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

4. खलील अहमद

बात की जाए बाएँ हाथ वाले गेंदबाज़ों की, तो इस समय भारतीय टीम में स्थायी रूप से कोई भी लेफ्ट आर्म पेसर नहीं है. ऐसे में मध्यम गति के युवा गेंदबाज खलील अहमद भारत की इस कमी को पूरा कर सकते हैं. खलील अहमद की सबसे बड़ी खासियत है उनकी रफ्तार और लाइन लेंथ. युवा गेंदबाज खलील अहमद 140 किमी/घंटा की औसत रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं.

हालाँकि खलील ने भी संजू सैमसन की तरह अभी तक अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अपनी प्रतिभा के अनुकूल प्रदर्शन नहीं किया है. मगर इससे उनकी प्रतिभा को कम नहीं आँका जा सकता है. एक बाएं हाँथ के गेंदबाज के तौर पर खलील पर भारतीय चयनकर्ताओं की पैनी नजर है.

इसी कारण यदि वह आगामी आईपीएल सीजन में लाजवाब प्रदर्शन कर दिग्गज बल्लेबाजों को आउट करते हैं तो वह जल्द ही राष्ट्रीय टीम में शामिल हो सकते हैं. इसी वजह है की खलील हमारी इस लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं.

2 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse