cricket
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले खेलों में से एक क्रिकेट (Cricket) के फैंस की कमी नहीं है, मतलब हर दिन इस खेल के प्रशंसक बढ़ते ही जा रहे हैं। वैसे आपको बता दें कि इस खेल को जीतना रोमांचक बनाते हैं उनके खिलाड़ी, उससे भी ज्यादा रोमांचक होते हैं क्रिकेट के नियम। जिनके दम पर कोई भी खेल को बेहतरीन ढंग से खेल सकता है। वैसे वर्षों से क्रिकेट के इस खूबसूरत खेल के नियम बदलते रहे हैं।

पहले टेस्ट, फिर वनडे और अब टी20 के समय में भले ही मुख्य खेल वही रहता है, लेकिन नियमों में हमेशा कुछ छोटे-मोटे बदलाव होते रहते हैं। जिन पर शायद किसी का ध्यान भी नहीं जाता है। आपको बता दें कि क्रिकेट के कई पुराने नियम बदले गए हैं और अधिकांश लोगों को शायद ये नियम याद भी न हों। तो, आइए एक नजर डालते हैं उन क्रिकेट नियमों पर जिन्हें आप अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस्तेमाल होने के बाद भी जान सकते हैं।

इन पांच Cricket नियमों को शायद भूल चुके हैं लोग

5. आठ गेंदों का ओवर

cricket

हम सभी जानते हैं कि Cricket में एक ओवर में छह गेंदें फेंकी जाती हैं। लेकिन, पहले ऐसा नहीं था, क्रिकेट को रोमांचक बनाने के लिए एक ओवर में गेंदों की संख्या में बदलाव किया गया था। बता दें कि 80 के दशक में इंग्लैंड में चार गेंद वाले ओवर हुआ करते थे जो बाद में पांच, फिर छह और फिर आठ गेंद में बदल गए।

कई अन्य देशों ने आठ गेंदों के ओवरों की कोशिश की, यहां तक कि इसका उपयोग अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी किया गया। पिछली बार आठ गेंदों के ओवरों का इस्तेमाल 1978 और 1979 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में अंतरराष्ट्रीय मैचों में किया गया था। उसके बाद सभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल छह गेंद के ओवरों के रहे हैं। हालांकि हाल में घोषित द हंड्रेड लीग में पारी को समाप्त करने के लिए 10 गेंद का एक ओवर होगा।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse