Sledging
Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

हाल ही में इंडिया और इंग्लैंड के बीच हुए एजबेस्टन टेस्ट मैच के दौरान विराट कोहली और जॉनी बेयरस्टो के बीच हुई स्लेजिंग (Sledging) अब तक क्रिकेट फैंस को याद है। विराट कोहली ने जॉनी बेयरस्टो को स्लेज (Sledging) किया, जिसके बाद उन्होंने आक्रमक अंदाज में इंडिया के खिलाफ शतकीय पारी खेली। जॉनी की विस्फोटक पारी के बदौलत ही इंग्लैंड की टीम इंडिया द्वारा दिए गए पहाड़नुमा टारगेट को चेज़ करने में सफल रही।

ऐसे में विराट का जॉनी को स्लेज करना टीम इंडिया को बहुत भारी पड़ा। लेकिन क्या आप जानते हैं कि क्रिकेट के मैदान पर यह पहला मौका नहीं था, जब किसी खिलाड़ी ने विरोधी टीम के खिलाड़ी को स्लेज (Sledging) किया और उसे भारी नुकसान उठाना पड़ा। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपके साथ तीन ऐसे किस्से शेयर करने जा रहे हैं, जब क्रिकेट के मैदान पर स्लेजिंग (Sledging) करने वाले खिलाड़ी की टीम को भारी नुकसान हुआ हो।

इन 4 लम्हों में Sledging करना खिलाड़ियों पर भारी पड़ा

भज्जी vs रावलपिंडी एक्सप्रेस

Sledging

स्लेजिंग की कई बुरी यादें पाकिस्तान क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के करियर से भी जुड़ी हैं। इन्ही किस्सों में से एक हरभजन सिंह के साथ का भी है। ये बात है साल 2010 में हुए एशिया कप की। पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान टीम ने भारत के सामने 268 रनों का टारगेट रखा था। टीम इंडिया का मध्यक्रम चरमरा गया, जिसके बाद टीम मुश्किल में पड़ गई।

इसके बाद शोएब अख्तर का सामना हरभजन सिंह से हुआ। ऐसे में दोनों खिलाड़ियों के बीच बहस हुई और दोनों भड़के हुए नजर आए। इसके बाद अख्तर ने भज्जी को बाउंसर मारने की सोची, दूसरी ओर, हरभजन का इरादा रावलपिंडी को सबक सिखाने का था। अख्तर के ओवर की एक गेंद में हरभजन सिंह ने एक गगनचुंबी छक्का जड़कर शोएब को चारों खाने चित्त कर दिया। जानकारी के लिए बता दें कि ये मैच टीम इंडिया के नाम रहा।

Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

3 replies on “भज्जी-अख्तर से लेकर, एंड्रयू-युवराज तक…. इन 4 लम्हों में स्लेजिंग करके खिलाड़ियों ने बढ़ाई है अपनी ही टीम की मुश्किलें”

Comments are closed.