bus driver
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट (Cricket) दुनिया में सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक माना जाता है. अपने देश के लिए नेशनल टीम में चुने जाना और फिर मैदान पर जाकर अच्छा प्रदर्शन करना हर खिलाड़ी के लिए सपने जैसा होता है. कुछ खिलड़ियों  के सपने पूरे हो जाते है जबकि कुछ के टूट भी जाते है. टीम में जगह पाने के बाद भी उन्हें अपने प्रदर्शन को बरकरार रखना पड़ता है जो की सबसे मुश्किल काम है.

खराब प्रदर्शन के चलते टीम में बाहर होने के बाद लंबे समय तक वापसी ना कर पाने वाले खिलाड़ियों को जिन्दगी में कभी-कभी कुछ ऐसी मुसीबतें भी झेलनी पड़ती है जिसके चलते उन्हें क्रिकेट से दूरी बनाने के लिए मजबूत होना पड़ जाता है आज हम ऐसे ही 3 क्रिकेटरों के बारे में यहां जानेंगे जो क्रिकेटर से अब बस चला कर अपना जीवन यापन कर रहे हैं.

ये 3 क्रिकेटर जो अब बन चुक हैं बस चालक

1. वेडिंगटन म्वायेंगा

Cricket

जिम्बाब्वे के लिए साल 2005 से 2006 के बीच क्रिकेट (Cricket) खेलने वाले वेडिंगटन म्वायेंगा को अपनी जिंदगी में आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा. वेडिंगटन को अपने परिवार के लिए दो वक्त की रोटी कमाना भी मुश्किल हो रहा था. ऐसे में अब वो ऑस्ट्रेलिया में जाकर बस ड्राइवर का काम कर रहे हैं.

वेडिंगटन म्वायेंगा ने जिम्बाब्वे के लिए 1 टेस्ट और 3 वनडे खेले हैं. टेस्ट और वनडे दोनों ही मैचों में उन्होंने 1-1 विकेट अपने नाम किया है. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनके नाम 22 मैचों में 53 विकेट दर्ज है जो एक अच्छा रिकॉर्ड कहा जा सकता है.

2. सूरज रणदीव

suraj randeeev sixteen nine

श्रीलंका के स्पिनर सूरज रणदीव भी इस लिस्ट में अपनी जगह बनाते है. रणदीप भी जीवन-यापन करने के लिए ऑस्ट्रेलिया में बस ड्राइवर का काम करते हैं. सूरज रणदीव के बस चालक के तौर पर काम करते हुए तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा वायरल हुई थी.

सूरज रणदीव ने श्रीलंका के लिए 12 टेस्ट, 31 वनडे और 7 टी-20 मैच खेले हुए हैं. उन्होंने नाम इंटरनेशनल क्रिकेट (International Cricket) में 86 विकेट दर्ज है. वहीं सूरज रणदीव आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स का भी हिस्सा रह चुके हैं. उन्होंने आईपीएल में 8 मैचों में 6 विकेट अपने नाम किये है.

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse