3 big villains of Rajasthan Royals' defeat, due to which the trophy was lost
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

RR: आईपीएल 2022 का खिताबी मुकाबला राजस्थान रॉयल्स (RR) और गुजरात टाइटंस (GT) के बीच संपन्न हुआ. इस मुकाबले में हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली टीम ने एकतरफा जीत दर्ज हासिल की और साथ ही ट्रॉफी को भी अपने नाम किया. वहीं 14 सालों के लंबे इंतजार के बाद फाइनल में जगह बनाने के बाद भी पिंक आर्मी के आईपीएल 2022 की ट्रॉफी अपने हाथ में उठाने का सपना चकनाचूर हो गया.

कई परीक्षाओं को पास और संघर्ष करते हुए राजस्थान रॉयल्स (RR) की टीम इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने में कामयाब हुई थी. पूरे सीजन लीग स्टेज के मुकाबलों में पिंक आर्मी के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया था. लेकिन, खिताब को अपने नाम करने में सिर्फ 1 कदम दूर रह गए. इसकी बड़ी वजह टीम के कुछ स्टार खिलाड़ी भी रहे, जिनकी वजह से फाइनल में राजस्थान का बंटाधार हो गया.

इस खास रिपोर्ट में हन उन्हीं 3 बड़े खिलाड़ियों की बात करने जा रहे हैं जो राजस्थान रॉयल्स (RR) की हार के विलेन साबित हुए और इनके खराब प्रदर्शन की वजह से टाइटल अपने नाम करते-करते पिंक आर्मी रह गई.

1. संजू सैमसन

Sanju Samson

इस लिस्ट में पहला नाम राजस्थान रॉयल्स (RR) के कप्तान संजू सैमसन (Sanju Samson) का नाम आता है जो अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. फाइनल मुकाबले में उनसे एक कप्तानी पारी की उम्मीद की गई थी. लेकिन इन उम्मीदों पर उन्होंने पूरी तरह से पानी फेर दिया. टॉस जीतकर सैमसन ने बल्लेबाजी का फैसला किया था और उनका यह निर्णय उन्हीं के खिलाफ साबित हुआ.

पहले टारगेट सेट करने उतरी आरआर के बल्लेबाज विरोधी गेंदबाजों के सामने घुटने टेकते हुए नजर आए. टीम का टॉप ऑर्डर तो फेल रहा ही साथ ही मध्यक्रम और लोअर ऑर्डर भी कुछ खास कमाल नहीं दिखा सका. मुश्किल समय में जब सैमसन को सूझबूझ से काम लेते हुए बल्लेबाजी करने की जरूरत थी तो उन्होंने एक गैरजिम्मेदाराना शॉट खेलकर अपना विकेट (14 रन बनाकर) आसानी से फेंक दिया.

उनके कुछ फैसले भी मैच में राजस्थान के खिलाफ साबित हुए. इसलिए ये कहना गलत नहीं होगा कि फाइनल में रॉयल्स की हार के सबसे बड़े विलेन खुद टीम के कप्तान सैमसन रहे.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse