क्रिकेट के एकदिवसीय फॉर्मेट में जब कोई भी बल्लेबाज शतक बनाता है तो अधिकतर समय उनकी टीम मजबूत स्थिति में नजर आ रही होती है. लेकिन यदि आपके शतक बनाने के बाद भी आपकी टीम को हार का सामना करना पड़े ऐसा मौके कम ही नजर आते हैं.

एकदिवसीय फॉर्मेट के कई ऐसे यादगार शतक हैं, जिसमें शतक बनाने वाली टीम को हार का सामना करना पड़ा है. एक बल्लेबाज के लिए ये सबसे बुरा होता है जब उसके शतक का फायदा टीम को नहीं मिल पाता है. ऐसे मौके पर शतक भी बल्लेबाज को बेकार लगता है.

आज हम आपको ऐसे 3 बल्लेबाजो के बारें में बताने जा रहे हैं. जिनके कई शतक ऐसे हैं जब उनकी टीम को जीत नहीं मिल पाई. इस लिस्ट में भारतीय टीम के खिलाड़ी भी शामिल हैं. कुछ नाम ऐसे हैं जिनकी इस लिस्ट में होने की उम्मीद आपने नहीं की होगी.

1. सचिन तेंदुलकर (14 शतक)

भारतीय टीम के महान खिलाड़ी और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर भी इस लिस्ट में शामिल हैं. अपने क्रिकेट करियर में उन्होंने कई ऐसे शतक बनाये. जब टीम को हार का सामना करना पड़ा. सचिन तेंदुलकर ने एकदिवसीय क्रिकेट में 49 शतक लगाए. जिसमें से 14 शतक हारे हुए मैच में थे.

अपने करियर में पहले दौर में सचिन तेंदुलकर भारतीय टीम के एकमात्र आस हुए करते थे. इसलिए कई बार ऐसा हुआ जब उनके शतक के बाद भी टीम को हार का सामना करना पड़ा था. सचिन तेंदुलकर के शारजाह के शतक को कोई भी क्रिकेट फैन नहीं भूल सकता है.

सचिन तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 175 रनों की पारी खेली थी. लेकिन उसके बाद भी वो अपनी टीम को हार से नहीं रोक पायें थे. सचिन तेंदुलकर ने 2011 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक बनाया था. जो बेकार चला गया था.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *