भारत और साउथ अफ्रीका टेस्ट सीरीज का आज तीसरा दिन है। भारत की लड़खड़ाती पारी को संभाल कर हार के मुंह से निकालने वाले हार्दिक पांड्या का विकेट साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी के लिए जबरदस्त खुशी लेकर आया। 92 रन पर सात विकेट खोने के बाद लग रहा था, कि अब भारतीय टीम 100 रन भी नहीं बना पाएगी लेकिन पांड्या ने अपने अंदाज में खेलते हुए मेजबान टीम को ऐसा करने नहीं दिया।

भुवनेश्वर कुमार की बहुमूल्य साझेदारी के साथ हार्दिक पांड्या ने वनडे फॉर्मेट की तरह बल्लेबाजी की और टीम को हार के खतरे से बाहर किया। हार्दिक के शॉट्स ने दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों को परेशान कर दिया था। कुछ देर पहले तक हर गेंद पर कहर बरपाने वाले गेंदबाज हताश होने लगे थे, फिल्डर्स से मिस फिल्डिंग भी हो रही थी, लेकिन पंड्या रन बनाते जा रहे थे।

हार्दिक के विकेट से खुश हुए मेजबान

एक वक्त फालोऑन बचा पाना भी भारत के लिए मुश्किल लग रहा था लेकिन बाद में पंड्या के शॉट्स से सबको साउथ अफ्रीका पर लीड करने का भी अंदाजा होने लगा। पांड्या को ना रोक पाने से परेशान अफ्रीकी गेंदबाजों को जब 93 रन पर पंड्या का विकेट मिला, तो अफ्रीकन गेंदबाज खुशी से झूम उठे। ऐसा लगा कि उन्होंने जिसे आउट किया है वो 300 रन से ज्यादा की पारी खेलकर गया है।

हालांकि पंड्या की 95 बॉल में 93 रन की बहुमूल्य पारी उस वक्त 300 रन की पारी से भी ज्यादा वैल्यूबल थी। शायद यहीं कारण था कि साउथ अफ्रीका के कप्तान डु-प्लेसी ने पंड्या का विकेट लेने वाले गेंदबाज रबाडा का माथा चूम लिया।

साउथ अफ्रीका को मिली 142 रनों की लीड

पांड्या के आउट होने के बाद भारत 209 रन पर ऑल आउट हो गई और अफ्रीका को 77 रनों की लीड मिली। साउथ अफ्रीका ने जब दूसरी पारी शुरू की तो उनके ओपनर बल्लेबजों ने भुवनेश्वर और शमी को काफी ध्यान से खेला ताकि उनकी विकेट बची रहे। तब कप्तान विराट कोहली ने पांड्या को बॉल दी और पंड्या ने वहां भी अपना दम दिखाया और दोनों ओपनर बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।

यानि हम फ्रीडम सीरीज के दूसरे दिन को द हार्दिक पंड्या डे भी कह सकते हैं। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक साउथ अफ्रीका ने दूसरी पारी में 20 ओवर्स में 2 विकेट खोकर 65 रन बना लिए हैं। जिससे उन्हें अभी तक 142 रनों की लीड हासिल हो चुकी है। तीसरे दिन भारत को अपनी स्थिति मजबूत करने और मैच को बचाने के लिए हर हाल में जल्दी विकेट लेने होंगे।

खेल पत्रकार

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *