Mohammad Hafeez on Hasan Ali

Mohammad Hafeez: पाकिस्तान के अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ हसन अली का वक्त इस समय कुछ ठीक नहीं चल रहा है. दरअसल, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी ने हाल ही नीदरलैंड्स टूर और एशिया कप 2022 के लिए टीम की घोषणा की है जिसमें हसन अली को नहीं शामिल किया गया. उनकी जगह टीम में नसीम शाह को मौका दिया गया है. ऐसे में अब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज़ मोहम्मद हफ़ीज़ (Mohammad Hafeez) ने इस पूरे मामले पर अपनी राय रखी है.

पीसीबी से निराश हैं Mohammad Hafeez

Mohammad Hafeez on Hasan Ali

28 वर्षीय हसन अली एक समय पाकिस्तान क्रिकेट टीम के तेज़ गेंदबाज़ी यूनिट की अहम कड़ी थे. लेकिन अब उन्हें टीम के स्क्वाड तक से ड्रॉप कर दिया गया है. ऐसे में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोहम्मद हफीज़ इस अनुभवी गेंदबाज़ के बचाव में उतरे हैं. हफीज़ (Mohammad Hafeez) ने अली को लेकर कहा,

“हसन अली एक शानदार क्रिकेटर हैं. मैं उन्हें उनके शुरुआती दिनों से जानता हूँ. वो एक फाइटर हैं. करियर के ऐसे मोड़ पर जब आप अच्छी फॉर्म में नहीं होते आप मानसिक रूप से थक जाते हो. लेकिन इसके बावजूद आप प्रदर्शन करना चाहते हो. मुझे लगता है कि मैनेजमेंट ने हसन के साथ ठीक नहीं किया. हसन को उन मैचों में खेलना पड़ा जब उन्हें आराम दिया जा सकता था.”

“उन्हें वो गेप नहीं मिला जो मिलना चाहिए था”

Mohammad Hafeez on Hasan Ali

मोहम्मद हफीज़ (Mohammad Hafeez) ने अपने दिए गए बयान में आगे इस बात का भी ज़िक्र किया कि सेलेक्शन कमेटी और टीम मैनेजमेंट ने उन्हें हर मैच खिलाने का फैसला किया था जिसके लिए खुद अली मानसिक तौर पर तैयार नहीं थे. हफ़ीज़ ने कहा,

“सेलेक्शन कमेटी और टीम मैनेजमेंट ने उन्हें हर गेम में शामिल करने का फैसला किया. लेकिन मानसिक तौर पर वह प्रेशर के लिए तैयार नहीं था. उन्हें वो गेप (आराम) नहीं मिला जो उन्हें चाहिए था. मुझे लगता है उन्हें अनावश्क रूप से खिलाया जा रहा था. तो, यह टीम मैनेजमेंट की एक गलती थी और काफी हद तक हसन की भी क्योंकि जब आप यंग होते हो तब आपको गेम के मानसिक पहलू की महत्ता नहीं पता होती.”

हसन अली को रहना चाहिए पॉज़िटिव

Mohammad Hafeez on Hasan Ali

पाकिस्तान के पूर्व स्टार खिलाड़ी ने आगे यह भी कहा है कि टीम से ड्रॉप होने की बात को हसन अली को पॉज़िटिव रूप में लेना चाहिए. उन्हें कुछ वक्त अपने परिवार के साथ गुज़ारना चाहिए. इतना ही नहीं बल्कि हफीज़ को अली से पूरी उम्मीद है कि 3-4 हफ्ते के ब्रेक के बाद जब वह वापसी करेंगे तो एक बार विकेट लेने की हंगर (भूख) के साथ उतरेंगे.