भारतीय टीम को अब तक कई सलामी बल्लेबाज मिले हैं। सुनील गावस्कर से लेकर गौतम गंभीर तक भारत को कई ऐसे विस्फोटक क्रिकेटर मिले हैं, जिन्होंने कई बार टीम को जीत दिलाने में मदद की है।

भारत का क्रिकेट में हमेशा ही दबदबा रहा है। ओपनर टीम को एक अच्छी शुरुआत तो देता ही है, पर दूसरी टीम को एक मुश्किल लक्ष्य देने में टीम की मदद भी करता है।

आज हम आपको ऐसे पांच भारतीय बल्लेबाजों के बारे में बताऐेंगे जो क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज़ रहे हैं।

Related image

सचिन तेंदुलकर

Image result for sachin
क्रिकेट के भगवान के नाम से पहचाने जाने वाले सचिन तेंदुलकर भारतीय टीम के एक महान ओपनर रहे हैं। उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए है।

उन्होंने भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदलकर रखा है। अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाने का रिकॉर्ड भी उनके नाम है। सचिन ने एकदिवसीय क्रिकेट मे 44.83 की औसत से 18426 रन बनाए है।

महेन्द्र सिंह धोनीImage result for dhoni

महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय क्रिकेट को एक नई ऊंचाई तक पहुंचाया. धोनी की कप्तानी में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए वर्ल्ड कप में कई बड़े टूर्नामेंट जीते.

एक खिलाड़ी के रूप में भी धोनी ने शानदार प्रदर्शन किया. एकदिवसीय मैचों में धोनी का औसत 50 से भी ज्यादा रहा. एक कप्तान के रूप में उनका बल्ला खूब बोला.

कप्तान के रूप में धोनी ने करीब 54 की औसत से रन बनाए. विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में एकदिवसीय मैच में सबसे ज्यादा 183 व्यक्तिगत स्कोर बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया.

कपिल देवImage result for कपिल देव

कपिल देव भारतीय क्रिकेट के पहले सुपरस्टार का ध्यान आते ही उनकी कई छवियां जेहन में उभरती है. इस दौरान टेस्ट और वनडे क्रिकेट में बतौर आलराउंडर वे मुकाम दर मुकाम भी बनाते गए. टेस्ट में 5000 से ज्यादा रन और 400 से ज्यादा विकेट.

वनडे में 3000 से ज़्यादा रन और 250 से ज्यादा विकेट. कपिल देव ने भारत की ओर से कुल 225 वनडे मैच खेले. इन मैचों में उन्होंने कुल 3783 रन बनाए. इस दौरान उनकी स्ट्राइक रेट 95.07 रही, यानी प्रति 100 गेंद पर 95.07 रन.

इस आंकड़े की अहमियत इसलिए भी ज़्यादा है, क्योंकि कपिल ने अपना आखिरी वनडे मैच अक्टूबर, 1994 में खेला था, तब तक क्रिकेट की दुनिया में बल्लेबाज़ों का तूफ़ानी दौर शुरू नहीं हुआ था.

युवराज सिंहImage result for युवराज सिंह

युवराज सिंह ने 20-20 विश्व कप 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ 6 गेंदों में 6 छक्के मारे थे, और 20-20 में 12 गेंदों में अर्धशतक बनाने का विश्व रिकॉर्ड भी उनके नाम है। उनको सिक्सर किंग नाम से जाना जाता है। युवराज सिंह को विश्व कप 2011 में अहम भूमिका निभाने में मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट चुना गया।

इंडियन प्रीमियर लीग में किंग्स इलेवन पंजाब, पुणे वारियर्स इंडिया, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, [दिल्ली डेयरडेविल्स]] की और से खेल चुके है. हाल में आईपीएल विजेता सनराइजर हैदराबाद से खेल रहे है। इन्होंने 1 ओवर मे 6 छक्के लगाने का विश्व रिकार्ड बनाया है

राहुल द्रविड़Image result for राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ को “Wall OF INDIA” के नाम से भी जाना जाता है, क्यूंकि जब बॉलर बॉल फेकता था, तो लोगो को बॉल लेने के लिए बाउंड्री के पास नहीं बल्कि राहुल द्रविड़ के पास आना पड़ता था, क्यूंकि उनके डिफेन्स में इतनी ताकत थी, कि वो अपने बैट से बॉल को वही थमा देते थे।

राहुल द्रविड़ ने अपने बल्लेबाजी की कुशल के माध्यम से भारत को बहुत सम्मान दिलाया है। राहुल द्रविड़ ने अपने 16 साल के करियर में कई रिकॉर्ड तोड़ के अपने बल्लेबाजी से टीम को मजबूत किया ।

उन्होंने कप्तानी के रूप मै भी अपने आप को साबित कर दिया और भारत मै भी और विदेशो मै भी कुछ यादगार जीते हासिल की। राहुल द्रविड़ को अर्जुन पुरस्कार और पद्मश्री राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सन्मानित किया गया है।