इंग्लैंड के खिलाफ पहले वन डे में इंडिया ने 8 विकेट से जीत हासिल की. इस शानदार मैच में रोहित शर्मा और किंग कोहली ने साथ मिलकर अच्छी सांझेदारी निभाई. इसके साथ ही दोनों ने एक और रिकार्ड अपने नाम कर लिया है.

दोनों की सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की जोड़ी क्रिकेट के मैदान पर हमेशा हिट रही है. अपने क्रिकेट करियर में सचिन और सौरव गांगुली ने वनडे में कुल 26 शतकीय साझेदारी की.Image result for रोहित और कोहली तेंदुलकर और सहवाग

रोहित और कोहली की साझेदारी है ज़बरदस्त

भारत के हिटमैन रोहित शर्मा और किंग कोहली की जोड़ी ने सचिन और सहवाग की जोड़ी को पछाड़ दिया है. रोहित और विराट कोहली ने वनडे में कुल 14 शतकीय साझेदारियां कर ली है. इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे में दोनों स्टार बल्लेबाजों ने ये मुकाम हासिल किया.

आपको बता दें, जब भी कोहली और रोहित मैदान में होते हैं. विपक्षी गेंदबाजों को इन्हें आउट करना काफी मुश्किल होता है. क्योंकि कोहली और रोहित मौजूदा समय में दुनिया के बेस्ट बल्लेबाजों में गिने जाते हैं

वनडे में शतकीय साझेदारी के मामले में दूसरे स्थान परImage result for रोहित और कोहली तेंदुलकर और सहवाग

रोहित ने जहां शतक ठोका तो वहीं कोहली ने भी 75 रनों की मैच विजयी पारी खेली। इन दोनों ने 167 रनों की साझेदारी करके वीरेंद्र सहवाग और मास्टर ब्लास्टर की जोड़ी को पीछे छोड़ दिया है।

रोहित ने और कोहली की जोड़ी वनडे में शतकीय साझेदारी के मामले में दूसरे स्थान पर आ गई है। इन दोनों की यह 14वीं शतकीय साझेदारी है जबकि सहवाग और सचिन के बीच 13 बार ही शतकीय साझेदारी हुई।

बल्लेबाजों से ज्यादा थी गेंदबाजों की धूमसचिन, सहवाग और रोहित तीनों ने भारत के लिए दोहरे शतक लगाए हैं।

इस मामले में सबसे पहले नंबर पर सचिन और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली की जोड़ी है, जिन्होंने वनडे क्रिकेट में 26 बार शतकीय पारी खेली। तीसरे नंबर पर सहवाग-तेंदुलकर और चौथे नंबर पर रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी काबिज हैं।

हिटमैन और गब्बर ने वन-डे में 12 शतकीय साझेदारियां की हैं. इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने जोस बटलर और बेन स्टोक्स की हाफ सेंचुरी से 268 रन बनाए। इनके अलावा जेसन रॅाय और जॉनी बेयरस्टो ने 38-38 रन बनाए।

कुलदीप यादव ने 25 रन देकर 6 विकेट हासिल किए। इनके अलावा युजवेंद्र चहल ने एक और उमेश यादव ने 2 विकेट चटकाए। जवाब में उतरी भारतीय टीम ने इस लक्ष्य को रोहित और कोहली की मदद से 40.1 ओवरों में हासिल कर लिया।