युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के शानदार अर्धशतक के दम पर भारत ए ने इंग्लैंड ए को सोमवार को फाइनल में पांच विकेट से हराकर एकदिवसीय ट्राई सीरीज का खिताब जीत लिया। ऋषभ पंत ने 64 रनों की दमदार पारी खेली। भारतीय टीम ने इंग्लैंड को नौ विकेट पर 264 रन पर रोकने के बाद 48.2 ओवर में पांच विकेट पर 267 रन बनाकर खिताब अपने नाम कर लिया।

पन्त ने खेली शानदार  पारी

पंत ने 62 गेंदों पर आठ चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 64 रन की मैच विजयी पारी खेली। पंत के साथ क्रुणाल पांड्या 37 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के के सहारे 34 रन बना कर नाबाद रहे। दोनों ने छठे विकेट की अविजित साझेदारी में 71 रन जोड़कर भारत ए टीम को शानदार जीत दिलाई। ओपनर पृथ्वी शॉ ने 15, मयंक अग्रवाल ने 40, शुभमन गिल ने 20, कप्तान श्रेयस अय्यर ने 44 और हनुमा विहारी ने 37 रन बनाये।

सोशल मीडिया में फैली नाराज़गी की अफवाहे

भारतीय क्रिकेट टीम की घोषणा होने के ठीक दो दिन बाद ही ऋषभ पंत ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ विस्फोटक पारी खेली। पंत ने महज़ 63 गेंदों में नाबाद 128 रन बना डाले। इसके बाद अफवाहों का बाज़ार गर्म हो गया कि पंत ने शतक ठोककर चयनकर्ताओं को जवाब दिया है।

सोशल मीडिया में ये खबरें भी उड़ने लगीं कि चयनकर्ताओं द्वारा नज़रअंदाज़ किये जाने से ऋषभ पंत नाराज़ हैं। हालांकि अब ऋषभ पंत खुद इन अफवाहों को खारिज़ करने के लिए सामने आये हैं।

उन्होंने इन अफवाहों को नकारते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसा कुछ बयान नहीं दिया है।

अच्छा करने पर मिलेगा अच्छा मौका

अपने ट्वीट में ऋषभ पंत ने लिखा उन्हें इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया में ना चुने जाने का दुख नहीं है। पंत का मानना है कि अगर कोई खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन करेगा तो उसे टीम में आने का मौका मिलेगा ही।

दिल्ली के इस क्रिकेटर ने कहा, “हर कोई देश के लिए खेलना चाहता है और अगर आप अच्छा करते हैं, तो आपको मौका मिलेगा।”

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *