सरफराज खान को मिला रणजी में रन बरसाने का इनाम, इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में हुई एंट्री, इस खिलाड़ी को किया रिप्लेस

Sarfaraz Khan: टीम इंडिया ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली. भारत ने यह टेस्ट सीरीज ड्रॉ कराकर बराबरी पर खत्म की. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद टीम इंडिया घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी. यह सीरीज 25 जनवरी से शुरू होगी. घरेलू क्रिकेट में खूब रन बनाने वाले सरफराज खान को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मौका दिया जा सकता है. इसकी वजह दक्षिण अफ्रीका में उनका दमदार प्रदर्शन है. लेकिन अगर उनकी टीम में एंट्री होती है तो कौन सा खिलाड़ी बाहर हो सकता है, आइए आपको बताते हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में Sarfaraz Khan की खुलेगी किस्मत

Sarfaraz Khan
Sarfaraz Khan

दरअसल, टीम इंडिया ने 26 दिसंबर से साउथ अफ्रीका के साथ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली है. इस टेस्ट सीरीज की शुरुआत में भारतीय टीम ने एक-दूसरे के खिलाफ 3 दिवसीय टेस्ट मैच खेला था. भारत और इंडिया ए टीम के बीच हुए इंट्रा स्क्वाड मैच में कई खिलाड़ियों ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया. इनमें से सरफराज खान (Sarfaraz Khan) ने भी काफी अच्छी बल्लेबाजी की, जिसके चलते उन्हें इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के लिए टीम में मौका दिया जा सकता है. इसमें सरफराज खान ने 61 गेंदों में शतक लगाकर कमाल कर दिया.

लंबे समय से टीम इंडिया का दरवाजा खटखटा रहे हैं सरफराज

Sarfaraz Khan
सरफराज खान (Sarfaraz Khan) के इस शतक ने चयनकर्ता का ध्यान जरूर खींचा होगा. आपको बता दें कि मुंबई का यह खिलाड़ी लंबे समय से टीम इंडिया में एंट्री के लिए दरवाजा खटखटा रहा है. लेकिन अभी तक इस खिलाड़ी को टीम में जगह नहीं मिली है. ऐसे में साउथ अफ्रीका में खेली गई उनकी शतकीय पारी टीम इंडिया में उनकी एंट्री के काम आ सकती है. हालांकि, अगर सरफराज की टीम इंडिया में एंट्री होती है तो श्रेयस अय्यर को टीम से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. इसका कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अय्यर का खराब प्रदर्शन है. इस वजह से उन्हें बाहर किया जा सकता है. ऐसे में अब देखना होगा कि प्रबंधन क्या फैसला लेता है.

घरेलू क्रिकेट में ऐसा रहा है Sarfaraz Khan का प्रदर्शन?

सरफराज खान (Sarfaraz Khan) ने मुंबई के लिए खेलते हुए रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने 6 मैचों की 9 पारियों में 123 की औसत से 982 रन बनाए। 4 शतक और 2 अर्धशतक लगाए। 275 रन की बेहतरीन पारी खेली. बाकी कोई बल्लेबाज 700 रन तक भी नहीं पहुंच सका. इसके अलावा अगर उनके फर्स्ट क्लास करियर की बात करें तो उन्होंने 41 मैचों में 71 की औसत और 69 की स्ट्राइक रेट से 3657 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 10 शतक निकले हैं. साथ ही इस दौरान नाबाद 301 रन बनाना उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा.

ये भी पढ़ें: भाई को रणजी 2024 में डेब्यू करते देख भावुक हुए मोहम्मद शमी, लिखा रूला देने वाला पोस्ट