भोशके B@CH 2023 03 21T174143.038

भारतीय क्रिकेट टीम के द वॉल के नाम से अपनी पहचान बनाने वाले राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) फिलहाल टीम इंडिया के मुख्य कोच की भूमिका निभा रहे हैं. गौरतलब है कि राहुल द्रविड़ मुख्य कोच के पद को हासिल करने के बाद से टीम इंडिया को कोई भी बड़ी खिताब जीतवाने में नकाम साबित हुए हैं. वहीं अब उनकें पद को लेकर तरह-तरह के सवाल भी खड़े किए जा रहे हैं. इसी बीच टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने राहुल द्रविड़ को लेकर एक बयान दिया है.

शास्त्री ने राहुल के बारे में कहा

skysports ravi shastri india 5501356स्पोर्ट्स तक का हिस्सा बने रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने राहुल द्रविड़ के बारे में बात करते हुए कहा

“किसी भी चीज़ के लिए समय लगता है, जब मैं भारतीय टीम का कोच था. तब मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ था और अब राहुल (Rahul Dravid) के साथ भी ऐसा ही हो रहा है. वह टीम के उपर लगातार काम कर रहे हैं. उन्हें थोड़ा समय देने की ज़रूरत है.

शास्त्री (Ravi Shastri) के इस बयान से साफ हो गया कि वह मौजुदा कोच के काम से काफी खुश हैं. जानकारी के लिए बता दें कि राहुल द्रविड़ ने टीम इंडिया के हेड कोच की ज़िम्मेदारी साल 2021 में संभाली थी.

शास्त्री ने अपने पुराने दिनों को किया याद

gettyimages 1352044842 612x612गौरतलब है कि दिग्गज क्रिकेटर और पूर्व कोच ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा

“देश के लोगों की याददाश्त काफी कमज़ोर है. उन्होंने कहा कि जिस समय मैं टीम का हेड कोच था, इंडिया ने दो बार एशिया कप का खिताब अपने नाम किया था. इस बात को कोई याद नहीं रखना चाहता है. जैसे ही टीम एक एशिया कप से बाहर हो जाएगी लोग सवाल करने लगेगें. वहीं शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा की कोशिश हमेशा होती रहनी चाहिए. चीज़ो को होने में थोड़ा समय लगता है”.

टीम के पास तीन ट्रॉफी जीतने का सुनहरा मौका

PTI11 17 2021 000139B 0 1637199895922 1637199918399गौरतलब है कि टीम इंडिया कि निगाहें इस साल तीन बड़ी ट्रॉफी को अपने नाम करने की होगीं. पहले मौके के तौर पर इस साल भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चौपिंयनशिप का फाइनल ऑस्ट्रेलिया के साथ लंदन में खेलेगी. वहीं इसके बाद टीम एशिया कप को जीतने की भरपूर कोशिश करने वाली है. वहीं इस बार 50 ओवर का विश्व कप भी भारत में आयोजित होगो. ऐसे में कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के साथ-साथ रोहित एंड कंपनी भी तीन बड़े टूर्नामेंट को अपने नाम करने की कोशिश करेगी.

यह भी पढ़े: PSL ने बीसीसीआई को दिया बड़ा झटका, बुरी तरह घटी IPL की व्यूअरशिप, इस मामले में नंबर-1 बनी पाकिस्तान लीग