"अच्छा होता अगर वो...", पृथ्वी शॉ के तिहरे शतक से भी खुश नहीं हैं सुनील गावस्कर!, दे दिया चौंकाने वाला बयान
"अच्छा होता अगर वो...", पृथ्वी शॉ के तिहरे शतक से भी खुश नहीं हैं सुनील गावस्कर!, दे दिया चौंकाने वाला बयान

भारतीय क्रिकेट टीम से लगातार नजरअंदाज किए जाने वाले खिलाड़ी पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) घरेलू लीग में गजब का प्रदर्शन कर सभी खेल प्रेमियों का दिल जीत रहे है। उन्होंने हाल ही में रियान पराग की टीम असम के खिलाफ 379 रनों की पारी खेली थी। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में यह कारनामा करने वाले वह एन.के. निंबाल्कर के बाद दूसरे खिलाड़ी बन गए है।

इससे पहले निंबाल्कर ने एक पारी में महाराष्ट्र की तरफ से खेलते हुए काठियावाड़ टीम के खिलाफ 443 रनों की पारी खेली थी। इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सुनील गावस्कर ने पृथ्वी शॉ की जमकर तारीफ करते हुए उनकी टीम इंडिया में वापसी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।

60-70 रनों से नहीं मिलेगीं टीम में जगह- गावस्कर

Prithvi Shaw: रिकॉर्डतोड़ पारी के बाद आलोचकों पर बरसे पृथ्वी शॉ, 'जो मुझे नहीं जानते, वही बोलते हैं...' - prithvi shaw comment after 379 runs innings in ranji trophy team india place

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के द्वारा युवा विस्फोटक बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) को लगातार टीम इंडिया से नजरअंदाज किया जा रहा है। शॉ ने घरेलू लीग में अपने बल्ले से तबाही मचा कर रख रखी है। उन्होंने पिछले साल सय्येद मुश्ताक अली ट्रॉफी में सबसे ज्यादा 365 रन बनाए थे। इसी बीच लगातार बीसीसीआई के द्वारा नजरअंदाज किए जाने के बाद 1983 की विश्व कप विजेता टीम के हिस्सा रहे सुनील गावस्कर ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा,

“उससे यही चाहिए था, वह प्यार से 60-70 रन बना रहा था। इतने सारे लोग 60-70 का स्कोर कर रहे थे। यदि आप वास्तव में चयन समिति का ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं तो बड़े शतक, दोहरा और तिहरा शतक जड़ने होंगे। उसने लगभग 400 का स्कोर बनाया था, यह शानदार होता अगर उसने 400 से अधिक रन बनाए होते।”

हालांकि सुनील गावस्कर के इस बयान से शायद फैंस सहमति ना जताएं। क्योंकि इन दिनों लगातार पृथ्वी शॉ घरेलू क्रिकेट में बल्ले से कहर बरपा रहे हैं। ऐसे में ये कहना कि उन्होंने 400 से ज्यादा रन बनाए तो औऱ बेहतर होता, ये बयान काफी फैंस के मन में खटक रहा है। लेकिन, दिग्गज ने शॉ का सपोर्ट भी किया है और उनके प्रदर्शन की तारीफ भी की है।

Prithvi Shaw ने जड़ा तिहरा शतक

379 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलने के बाद पृथ्‍वी शॉ ने तोड़ी चुप्‍पी, कहा- 'जो नहीं जानते, वो भी...' - prithvi shaw says after his brilliant knock in ranji trophy i have

मुंबई और असम के बीच खेले गए मुकाबले में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने अपनी शानदार पारी से विपक्षी गेंदबाजी लाईन अप की धज्जियां उड़ा कर रख दी। उन्होंने आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी की। इस दौरान उन्होंने खेल के पहले दिन ही अपना शतक जड़ दिया था। इसके बाद उन्होंने खेल के दूसरे दिन तिहरा शतक जड़़ा। हालांकि, इस दौरान वह अपने 400 रनों से महज 19 रनों से चूक गए थे। इसके बाद गावस्कर ने आगे कहा कि, “शॉ की वजह से ही मुंबई के लिए पारी घोषित करना मुश्किल हो गया होगा क्योंकि वह इस रिकॉर्ड के बेहद करीब थे।”

बता दे कि पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने असम के खिलाफ 383 गेंदो का सामना करते हुए 379 रनों की धमाकेदार पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में 49 चौके और 4 गगनचुंबी छक्के जड़े। शॉ के आउट होने के बाद मुंबई ने अपनी पारी 687/4 पर घोषित की थी।