Rahul Dravid plan on KL Rahul Rishabh Pant

Rahul Dravid ने ऋषभ पंत को बाहर करने के लिए रचा चक्रव्यूह? जानिए कैसे ODI वर्ल्ड कप 2023 में होगा टीम इंडिया का बेड़ा पार∼

KL Rahul: रविवार का दिन टीम इंडिया के लिए काफी ख़राब रहा है. टीम को बांग्लादेश के खिलाफ शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में टीम के सीनियर खिलाड़ी फ्लॉप साबित हुए लेकिन केएल राहुल ने एक छोर पर शानदार बल्लेबाज़ी करते हुए टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाये.

राहुल (KL Rahul) ने ऋषभ पंत के चोटिल होने के कारण टीम से बाहर होने पर विकेट के पीछे दस्ताने भी पहनते हुए कीपिंग की जिम्मेदारी निभाई. ऐसे में क्या यह पंत की चोट की वजह से लिया गया फैसला है या फिर कोच राहुल द्रविड़ ने पंत और अतिरिक्त गेंदबाज़ की समस्या का हल निकाल चुके है जो आने वाले वर्ल्ड कप के लिए मास्टर स्टोक साबित हो सकता है. चलिए राहुल द्रविड़ और केएल राहुल के इस प्लान को समझते है.

टीम इंडिया के लिए पंत बन रहे हैं बोझ

KL Rahul

टीम इंडिया में महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास लेने के बाद कई विकेटकीपर बल्लेबाजों पर दाँव लगाया गया है लेकिन पिछले कई मुकाबलों में टीम में नियमित कीपर के तौर अपर ऋषभ पंत ये जिम्मेदारी निभाते हुए नजर आते है. पर शुरुआत अच्छी बल्लेबाज़ी के बाद अब पंत का बल्ला शांत ही नजर आता है. वो खराब शॉट सिलेक्शन के चलते सस्ते में अपनी विकेट गंवा बैठते है. बांग्लादेश सीरीज में पंत चोट के चलते वनडे सीरीज से बाहर हो चुके है. ऐसे में टीम इंडिया के पास विकल्प के तौर पर ईशान किशन और केएल राहुल मौजद थे.

मैच में केएल राहुल (KL Rahul) को कीपिंग की जिम्मेदारी दी गयी और उन्होंने मैच में 76 रन की पारी खेलते हुए शानदार बल्लेबाज़ी की. राहुल एक प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं और वह पारी को संभालने के  साथ-साथ उसे रफ्तार देने का दम रखते हैं. ऐसे में आने वाले वनडे विश्व कप के लिए अगर टीम मैनेजमेंट पंत की जगह राहुल को बतौर विकेटकीपर ज्यादा मौके देता है और उन्हें निचले क्रम में बल्लेबाजी कराता है तो उससे टीम को फायदा हो सकता है.

आंकडें दे रहे हैं गवाही

Rahul Dravid ने ऋषभ पंत को बाहर करने के लिए रचा चक्रव्यूह? जानिए कैसे ODI वर्ल्ड कप 2023 में होगा टीम इंडिया का बेड़ा पार

विकेट के पिछले अगर केएल राहुल (KL Rahul) के प्रदर्शन की बात करे तो वो भी अच्छा नजर आता है. उन्होंने भारत के लिए अभी तक 9 वनडे मुकाबलों में विकेटकीपिंग की है जिसमें उनके नाम 13 कैच और 2 स्टंप दर्ज है. इसके साथ ही उन्होंने इस दौरान 65 से भी ज्यादा की औसत से 458 रन बनाये है. राहुल के आंकड़े मिडिल आर्डर बल्लेबाज़ के तौर पर भी शानदार नजर आते है. राहुल ने 2020 से भारत के लिए नंबर 4-6 के बीच बल्लेबाजी करते हुए 12 पारियों में 67 की औसत से रन बनाए हैं.

बांग्लादेश के खिलाफ भी पहले वनडे में उन्होने अर्धशतक जमाया है. 2020 से राहुल ने 1 से 3 नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए सात पारियों में 24.7 की औसत से रन बनाए हैं. ऐसे में सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर टीम में शिखर धवन और रोहित शर्मा मौजूद है. अगर राहुल (KL Rahul) मध्यक्रम में बल्लेबाज़ी करते हुए अपनी फॉर्म बरकरार रखते है तो टीम के लिए वर्ल्ड कप में टीम को और भीतर तरीके से संतुलित करने का मौका हो सकता है.

KL Rahul भी टीम के लिए कुछ भी करने को तैयार

KL Rahul
KL Rahul

टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ के इस फैसले से पहले भी केएल राहुल (KL Rahul) टीम के हर तरह की भूमिका निभाने की बात कह चुके है. उन्होंने साल 2020 में अपने एक इंटरव्यू में कहा था की वो आगामी वर्ल्ड कप 2023 तक टीम के लिए विकेटकीपिंग की भूमिका निभा सकते है. इस से टीम को एक अतिरिक्त गेंदबाज़ या आलराउंडर खिलाने की अनुमति मिल जाती है. उन्होंने कहा था,

“इससे टीम संयोजन में मदद मिलती है और ये ऐसी चीज है जो मैं करना पसंद करूंगा. अगर मौका मिलता है तो मैं विश्व कप में विकेटकीपर की भूमिका निभा सकता हूं. अपने देश के लिए ऐसा करना मेरे लिए खुशी की बात होगी.”

साल 2021 और 2022 में तो भले ही वो यह जिम्मेदारी नहीं निभा सके लेकिन अब पंत के बाहर होने के बाद उनके टीम के लिए नियमित विकेटकीपर की भूमिका टीम के लिए भी बेहतर साबित हो सकती है.