CSK-MS Dhoni 2021

आईपीएल 2021 (IPL 2021) के दूसरे चरण की शुरूआत होने में सिर्फ चंद दिन बचे हैं. लेकिन, एक ओर जहां तकरीबन सभी खिलाड़ी यूएई पहुंच चुके हैं. वहां सीएसके (CSK) की समस्या खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. पहले हाफ में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली चेन्नई इस समय अंकतालिका में दूसरे स्थान पर बैठी हुई है. दूसरे सत्र की शुरूआत नजदीक है और ऐसे में एमएस धोनी (MS dhoni) की टेंशन बढ़ चुकी है. क्या है पूरी खबर, जानिए इस रिपोर्ट के जरिए….

CSK के लिए बुरी खबरों का दौर जारी

CSK

दरअसल यूएई में इस टूर्नामेंट के बचे हुए सभी 31 मुकाबले खेले जाने है. इसके लिए लगभग सभी खिलाड़ी यूएई पहुंच गए हैं औैर अपनी फ्रेंचाइजी से जुड़ चुके हैं. लेकिन चेन्नई अपने 4 बड़े खिलाड़ियों को लेकर चिंतित है. मैदान पर टीम के संकटमोचन बनने वाले ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्‍लेसी, सैम करन और मोईन अली ही अब कप्तान की सबसे बड़ी चिंता बन गए हैं. ड्वेन के चोटिल होने की खबर ने फैंस की भी चिंता बढ़ा दी है.

 

ब्रावो की बात करें तो भले वो मैदान पर वापसी कर चुके हैं. लेकिन, पिछले मैच में उन्‍होंने गेंदबाजी नहीं की. वहीं कैरेबियन प्रीमियर लीग में सेंट लूसिया किंग्‍स के कप्‍तान और सीएसके (CSK) के सलामी बल्‍लेबाज फाफ डु प्‍लेसिस भी चोटिल हो गए हैं. जिसके कारण बारबाडोस रॉयल्स के खिलाफ हुए मैच में भी वो हिस्सा नहीं ले सके थे. बताया जा रहा है कि, उनकी मांसपेशियों में खिंचाव है. इसलिए वो पिछले मैच में नहीं खेल सके थे.

प्‍लेसिस चोटिल, अब सैम और मोईन के भी खेलने की उम्मीद कम

CSK के लिए बुरी खबरों का दौर जारी, अब इन 4 खिलाड़ियों ने आईपीएल से पहले बढ़ाई धोनी की चिंता

ब्रावो और प्‍लेसिस की इंजरी के अलावा अब इस तरह की भी खबरें आ रही हैं कि, सैम करन और मोईन अली भी सीएसके (CSK) की चिंता का कारण बन गए हैं. इसलिए इन दोनों ही इंग्लिश खिलाड़ियों के प्‍लेऑफ में खेलने की संभावना काफी कम मानी जा रही है.  19 सितंबर से आईपीएल 2021 (IPL 2021) के दूसरे सत्र की शुरूआत होगी. इसका फाइनल मैच 15 अक्टूबर को खेला जाएगा. लेकिन, उससे पहले ये खबरें वाकई चिंता से कम नहीं है.

CSK के लिए बुरी खबरों का दौर जारी, अब इन 4 खिलाड़ियों ने आईपीएल से पहले बढ़ाई धोनी की चिंता

हालांकि इंग्लैंड के 6 क्रिकेटर पहले ही किसी ना किसी वजह से इस टी20 लीग से अपना नाम वापस ले चुके हैं. अब जिस तरह की खबरें सामने आ रही हैं उसकी माने तो प्लेऑफ के दौरान बचे 10 में से 9 खिलाड़ी भी नहीं खेल सकेंगे. यानी सभी इंग्लिश खिलाड़ी लीग मैच तक ही उपलब्ध रहेंगे.