"भारत का कोच बन गया तो...", Justin Langer ने बताई टीम इंडिया का कोच बनने की सबसे बड़ी चुनौती
"भारत का कोच बन गया तो...", Justin Langer ने बताई टीम इंडिया का कोच बनने की सबसे बड़ी चुनौती

Justin Langer: बीसीसीआई भारतीय टीम के लिए नए गुरु की तलाश में है. उन्होंने इसके लिए आधिकारिक घोषणा भी कर दी है. राहुल द्रविड़ का कार्यकाल जून में टी20 वर्ल्ड कप 2024 के बाद खत्म हो जाएगा. सबसे बड़ा सवाल ये है कि उनके बाद कोच की भूमिका कौन संभालेगा.

आईपीएल 2024 में लखनऊ को कोचिंग दे रहे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी जस्टिन लैंगर भी टीम इंडिया के मुख्य कोच बनने के दावेदार हैं. हाल ही में उन्होंने इस पर अपनी इच्छा भी जाहिर की थी. लेकिन अब उन्होंने एक ताजा बयान दिया है, जो बेहद चौंकाने वाला है. आइए सबसे पहले जानते हैं कि उनके पास क्या है.

Justin Langer कहना मुख्य कोच का काम थका देने वाला

  • जस्टिन लैंगर (Justin Langer) का मानना है कि भारतीय टीम का कोच बनना एक बड़ी जिम्मेदारी है.
  • लेकिन ये काम काफी थका देने वाला है. क्योंकि क्रिकेट पूरे साल चलता रहता है.
  • आपको सिर्फ 2 महीने तक ही राहत मिलेगी. उन्होंने यहां ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम की अपनी कोचिंग का भी जिक्र किया.
  • ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने आईसीसी ट्रॉफी जीतने पर भी प्रतिक्रिया दी.

“सबसे बड़ी ज़िम्मेदारी”- जस्टिन

  • जस्टिन लैंगर (Justin Langer) ने क्या किया- भारतीय क्रिकेट टीम का मुख्य कोच बनना शायद क्रिकेट की दुनिया की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है. पूरे साल खूब क्रिकेट होता है और लोगों को काफी उम्मीदें होती हैं. 
  • यह एक बड़ी चुनौती होगी, लेकिन यह मजेदार भी होगा और आईसीसी ट्रॉफी जीतने का एक शानदार मौका भी होगा. 
  • लेकिन इन सभी चीजों के साथ-साथ समय भी सही होना चाहिए.  चार साल तक मैंने ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ मुख्य कोच के रूप में काम किया
  • जस्टिन लैंगर (Justin Langer) ने आगे कहा- यह बहुत व्यापक और थका देने वाला काम है. लैंगर ने कहा कि भारतीय टीम पर जीत का काफी दबाव है.
  • लैंगर ने आईपीएल की तुलना विश्व कप से की और इसे दुनिया का सर्वश्रेष्ठ घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट बताया. 
  • उन्होंने इस सीजन में खराब प्रदर्शन के बावजूद लखनऊ सुपर जाइंट्स के टूर्नामेंट से बाहर होने पर अफसोस जताया

कोच पद के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

  • गौरतलब है कि बीसीसीआई ने मुख्य कोच पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए कुछ योग्यताएं और शर्तें तय की हैं. इसे नीचे पढ़ा जा सकता है और वे इस प्रकार हैं-
  •  कम से कम 30 टेस्ट या 50 वनडे मैच खेले हों
  •  एक सदस्य को कम से कम पूरे दो साल तक टेस्ट खेलने वाले देश का मुख्य कोच रहना चाहिए
  •  किसी आईपीएल टीम या उसके समकक्ष अंतरराष्ट्रीय लीग या फर्स्ट डिवीजन टीम या नेशनल ए टीम का कम से कम 3 साल तक एसोसिएट सदस्य या मुख्य कोच रहा हो
  •  आयु 60 वर्ष से कम होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें : BCCI के खिलाफ खोला मोर्चा, अब खुद भटक रहा है हर जगह, 25 की उम्र में इस खिलाड़ी को मिली मनमानी की सजा